सिसवा को तहसील बनाने की हुंकार, कैम्प लगाकर सी एम को भेजा गया पोस्टकार्ड

TIME
TIME
TIME

महराजगंज: जनपद की 146 वर्ष पुरानी टाउन एरिया सिसवा नगर पंचायत को तहसील बनाने की कवायद तेज हो गई है। सोमवार को “सिसवा तहसील बनाओ संघर्ष समिति” के सदस्यों ने हरपुर पकड़ी स्थित बउरहवा बाबा स्थान पर कैम्प लगाकर सैकड़ों लोगों द्वारा पोस्ट कार्ड लिखवाकर मुख्य मंत्री को भेजा गया।

बात दें कि 21 नवम्बर 1871 को नगर पंचायत के रूप में अस्तित्व में आई सिसवा नगर पंचायत आज भी उपेक्षा की त्रासदी झेल रही है। समय-समय पर सिसवा को तहसील बनाने की मांग उठी। किन्तु शासन-प्रशासन की उपेक्षा के चलते हर बार इसे ठंडे बस्ते में दबा दिया गया। वर्ष 2010 में गोरखपुर के तत्कालीन कमिश्नर के. रविन्द्र नायक द्वारा कुशीनगर जनपद के खड्डा, कप्तानगंज व महराजगंज जनपद के सिसवा को तहसील बनाने की रिपोर्ट शासन को भेजे जाने के बाद नगरवासियों में एक उम्मीद की किरण दिखाई दी।

परंतु इस बार भी लोगों को निराशा ही हाथ लगी। कप्तानगंज और खड्डा को तो तहसील बना दिया गया। मगर सिसवा उपेक्षित ही रह गया। विगत एक माह से कस्बे के युवाओं ने “सिसवा तहसील बनाओ संघर्ष समिति” का गठन कर इसे तहसील बनाने के क्रम में मुहिम छेड़ा है।

इसी क्रम में सोमवार को संगठन के युवाओं ने बउरहवा बाबा स्थान पर कैम्प लगाकर सैकड़ों लोगों के हस्ताक्षर युक्त पोस्टकार्ड पर सिसवा को तहसील बनाने की मांग को लिखते हुए प्रदेश के मुखिया आदित्यनाथ योगी के पास भेजा। कैम्प में संगठन के अमरेंद्र मल्ल, विवेक सोनी, श्रीराम शाही, विजय जायसवाल, धनंजय दूबे, विकास जायसवाल सहित तमाम युवा शामिल रहे।