राजल नीति के ऑडियो संस्करण का गोविवि कुलपति ने किया विमोचन

गोरखपुर: राजल नीति के ऑडियो संस्करण का विमोचन डीडीयू, गोरखपुर के कुलपति अशोक कुमार ने मंगलवार को किया। इस अवसर पर बोलते हुए उन्होंने पुस्तक के लेखक राजल गुप्ता को बधाई दी और आशा व्यक्ति की पुस्तक का ऑडियो संस्करण भी लोगों को बहुत पसंद आएगा।

राजल नीति का ऑडियो संस्करण youtube/इंटरनेट पर निःशुल्क रूप से सुना और डाउनलोड किया जा सकता है। इस कार्यक्रम मे अजेय गुप्ता, चन्द्र भूषण अंकुर, पूनम, साक्षी, विजयलक्ष्मी आदि उपस्थित थे।

राजल नीति एक ऐसे लड़के की कहानी है जिसे दुनिया ने कहा की वह जीवन में कुछ भी नहीं कर सकता क्योंकि उसमें पढ़ने लिखने की योग्यता नहीं है। यह पुस्तक उसी लड़के की क्लास 6th फेल से लेकर पढ़ाई छोड़ना, 9 डिग्री/सर्टिफिकेट तक की यात्रा का एक ताना बाना है। पुस्तक के लेखक राजल गुप्ता ने अपने सभी व्यक्तिगत अनुभव राजल नीति में लिखें हैं।

राजल जो पढ़ाई में बहुत ख़राब थे, क्लास 6th fail,अध्यापकों और समाज को लगता था की वे जीवन में ना ही कभी नहीं पढ़ पाएंगे, ना ही कुछ कर पाएंगे। स्कूल में मिलने वाली बार-बार सजा और जीवन में सिर्फ रिक्शा/ठेला ही चला पाएगा जैसे तानो से थककर उन्होंने पढ़ाई छोड़ने का निर्णय लिया। उनके दादाजी स्व राधेश्याम गुप्त जी के उचित मार्गदर्शन से उन्होंने पढ़ाई को जारी रखा और आज LL.B, PGJMC (JOURNALISM), PGDBA(MBA), B LEVEL (MCA) जैसी 4 प्रोफेशनल डिग्री समेत उनके पास 9 डिग्री/सर्टिफिकेट हैँ।

इसके अतिरिक्त राजल आरजी टेक एजुकेशन संस्थान के माध्यम से कमज़ोर छात्राओं को रोजगार के लिए निःशुल्क प्रशिक्षित करके उन्हें अपने पैरो पर खड़ा करने की नायब कोशिश भी कर रहें हैं।

Martia Jewels
Martia Jewels
Martia Jewels