बस्ती

बस्ती: गावों में नहीं है शौचालय फिर भी हैं ओडीएफ घोषित

बस्ती: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश को आगामी 2 अक्टूबर तक खुले में शौच मुक्त करने का लक्ष्य रखा है। जबकि उनके अधिकारी सरकार की इस योजना को किस तरह से पलीता लगा रहे हैं इसकी एक बानगी जिले में देखने को मिली।

किस तरीके गांव को ओडीएफ करने का खेल जमकर कागजों में चल रहा है इसकी पोल तब खुल गई जब खुद जिला अधिकारी राजशेखर ने रुधौली विधानसभा के सल्टौवा विकास खण्ड के सूरतगढ़ गांव का औचक निरीक्षण किया।

स्वच्छ भारत मिशन के तहत इस गांव में 59 शौचालयों का निर्माण होना था । विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों ने कागज में 15 दिन पहले इस गांव को ओडीएफ घोषित कर दिया। लेकिन जमीनी सत्यापन में मात्र 15 शौचालय पूर्ण रूप से बने हुए हैं जिनका उपयोग हो रहा है।

27 शौचालय निर्माणाधीन हैं जिसका 25 से 40 प्रतिशत तक केवल काम पूरा है। 17 शौचालयों पर अभी काम शुरू भी नहीं हुआ। ऐसे में जिले में बिना काम कराए गांव को ओडीएफ करने की सच्चाई खुलकर सामने आ गई।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *