आजमगढ़

GFR DeskFebruary 28, 2017
atraulia-vidhan-sabha-BSP-c.jpg

1min80

आजमगढ़: अतरौलिया से बसपा प्रत्याशी अखंड प्रताप सिंह ने निवर्तमान विधायक समाजवादी पार्टी के संग्राम यादव पर जोरदार हमला बोलते हुए कहा है की विधायक ने अपने कार्यकाल में क्षेत्र में सिर्फ गुंडई और अराजकता ही फैलाई है और गरीब जनता का शोषण किया है।

एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा की पिछले पांच वर्षों में स्थानीय जनप्रतिनिधि ने क्षेत्र में विकास का कोई भी कार्य नहीं किया। तमाम प्रतिभाएं होने के बाद भी शिक्षा अपने निम्नतम स्तर पर है। बिजली, पानी, सड़क जैसी मुलभुत सुविधाओं का आभाव है।

उन्होंने कहा की समूचे क्षेत्र में स्वास्थ्य सेवाओं की हालत जर्जर हो चुकी है। प्रदेश की अखिलेश सरकार पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा की सपा सरकार लुटेरी है और पांच वर्षों में कोई भी विकास का काम नहीं किया। उन्होंने सपा सरकार पर तंज कसते हुए कहा की अखिलेश सरकार ने काम तो कुछ किया नहीं है उलटे जनता की गाढ़ी कमाई अपने प्रचार प्रसार पर खर्च कर रही है।

श्री सिंह ने कहा की अगर प्रदेश को लूट, भ्रष्टाचार, अराजकता से छुटकारा पाना है तो बसपा की सरकार पूर्ण बहुमत के साथ लानी होगी। उन्होंने कहा की बसपा विधान सभा चुनाव के पहले पांच चरणों में जोरदार प्रदर्शन कर रही है और यह देख विरोधियों के हाथ पाँव फूल गएँ हैं।

उन्होंने कहा की अपनी हालात पतली होती देख भाजपा ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी समेत अपने आधे से ज्यादा मंत्रिमंडल को चुनाव प्रचार में झोंक दिया है। लेकिन नतीजा कुछ भी होने वाला नहीं है। उन्होंने कहा की भाजपा और सपा-कांग्रेस गठबंधन को इस चुनाव में जोरदार शिकस्त मिलने वाली है और बहन मायावती के नेतृत्व में बसपा पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाएगी।

गौरतलब है की अतरौलिया विधान सभा में अनुसूचित जातियों की संख्या लगभग 70000 है। उसके बाद यादवों की संख्या है। इस विधान सभा में यादव मतदाता 66000 के करीब है। तो वहीँ राजपूत और ब्राह्मणों की संख्या क्रमशः 66000 और 50000 है। निषाद मतदाताओं की संख्या 30000 के करीब है तो कुर्मी 26000 के करीब हैं। राजभर और मुसलमानों की संख्या क्रमश 22000 और 16000 है।

पिछले चुनाव में यहाँ सपा के संग्राम यादव विजयी हुए थे तो वहीँ 2007 के विधान सभा चुनाव में जनता ने यहाँ से बसपा के सुरेंद्र प्रसाद मिश्र को चुन कर विधान सभा भेजा था।

जातीय गणित के हिसाब से देखा जाए तो मायावती ने इस विधान सभा से एक ठाकुर उम्मीदवार पर दांव लगा कर विरोधियों के लिए मुश्किल पैदा कर दी है। अनुसूचित जाति बाहुल्य इस विधान सभा में कई बार ठाकुर और ब्राह्मण मतदाता निर्णायक साबित होते रहें हैं। मुसलमान मतदाता भी भाजपा को हरा सकने वाले किसी शशक्त उम्मीदवार पर अपना ठप्पा लगाएगा। बीते पांच वर्षों में निवर्तमान विधायक द्वारा विकास कार्य को बड़े पैमाने पर अंजाम ना देने के कारण भी हवा उनके खिलाफ हो सकती है।

अंतिम परिणाम किस के पक्ष में जाएगा ये तो 11 मार्च को पता चलेगा लेकिन स्थानीय परिस्थितियों को ध्यान में रखकर यह कहा जा सकता है की त्रिकोणीय लड़ाई वाले इस विधान सभा में बसपा का पलड़ा फिलहाल भारी है।


GFR DeskDecember 20, 2016
Islam-party-launched-in-Aza.jpg

1min50

आजमगढ़: मजहबी मुद्दे पर अब उत्तर प्रदेश में एक नयी पार्टी लांच हुयी है जिसका नाम है इस्लाम पार्टी। इस पार्टी का उद्देश्य भारत में इस्लामी शासन स्थापित करना है।

इस्लाम पार्टी द्वारा आजमगढ़ में लांच किये गए पोस्टर में लिखा हुआ है “भारत में इस्लामी शासन स्थापित करने का एक ही रास्ता – इस्लाम पार्टी”।

वर्ल्ड मीडिया टाइम्स, आजमगढ़ के अनुसार पोस्टर में पार्टी के नेशनल जनरल सेक्रेटरी, आफताब कमर अंसारी का फोटो लगा हुआ है और वोटरों से इस्लाम के नाम पर वोट देने की अपील की गयी है। अंसारी आजमगढ़ की मुबारकपुर सीट से चुनाव लड़ेंगे, जो सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह के संसदीय क्षेत्र में है और मुस्लिम बहुल क्षेत्र है।

अंसारी ने कहा कि उनकी पार्टी सिर्फ मुस्लिम बहुल सीटों पर ही चुनाव लड़ेगी। उम्मीदवारों के चयन की प्रक्रिया चल रही है और जल्द ही लिस्ट जारी कर दी जायेगी।

उन्होंने कहा कि मुसलमानों को हर पार्टी ने धोखा दिया है और अबी वक़्त आ गया है जब अपनी पार्टी और अपने नेतृत्व को खड़ा करना चाहिए।

यह पूछे जाने पर कि क्या धर्म और समुदाय के नाम पार्टी का प्रचार असंवैधानिक नहीं है उन्होंने कहा कि ऐसे में अब तक बहुजन समाज पार्टी प्रतिबंधित हो जानी चाहिए थी क्योंकि वह सिर्फ दलित समुदाय के ऊपर ही टिकी है।


GFR DeskNovember 14, 2016
image-for-representation-3.jpg

1min40

image-for-representation-3आजमगढ़: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार के पुराने नोट बंद करने के फैसले से नाराज समाजवादी पार्टी (सपा) की जिला इकाई ने जोरदार टिप्पणी की है। पार्टी ने कहा है कि मोदी सरकार का यह फैसला महज जनता का ध्यान मंहगाई और भ्रष्टाचार जैसे मुद्दों से भटकाने के लिए लिया गया है।

सपा के जिलाध्यक्ष हवलदार यादव ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार ने विदेशों में जमा काले धन को वापस लाने का ढिंढोरा पीटा था, मगर न जाने किस कारण से प्रधानमंत्री जी का ऐलान ठंडे बस्ते में चला गया। केंद्र सरकार द्वारा पांच सौ व एक हजार का नोट बंद करने से सबसे ज्यादा बेहाल आम आदमी हुआ है।

बिना किसी दूरगामी रणनीतिक सोच के सरकार के इस फैसले से महज जनता का ध्यान मंहगाई और भ्रष्टाचार जैसे मुद्दों से भटकाया गया है। यादव ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश में हुए विकास कार्यो से घबराकर केंद्र सरकार ने चुनाव के पहले इस तरह का जन विरोधी निर्णय लिया है।

उन्होंने कहा कि 23नवंबर को गाजीपुर में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव के स्वागत में जनपद से पार्टी के लोग गाजीपुर पहुंचेंगे। इसकी व्यापक तैयारी हो रही है।


GFR DeskOctober 23, 2016
UP-Cabinet-Minister-Durga-Y.jpg

1min70

up-cabinet-minister-durga-yआजमगढ़: समाजवादी पार्टी (सपा) के यादव परिवार में मचे घमासान का असर अब आजमगढ़ तक पहुंच गया है। यही कारण है कि उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री दुर्गा प्रसाद यादव के बेटे पूर्व ब्लॉक प्रमुख विजय यादव और भतीजे पूर्व ब्लॉक प्रमुख प्रमोद यादव के बीच किसी बात को लेकर हुई कहासुनी के बाद दोनों के समर्थकों में जमकर मारपीट और फायरिंग हुई।

मारपीट की इस घटना में मंत्री के पांच समर्थक गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। मामले में पुलिस ने मंत्री के भतीजे प्रमोद यादव समेत नौ लोगों को गिरफ्तार किया है।

दरअसल, मुलायम परिवार की तरह कैबिनेट मंत्री दुर्गा प्रसाद यादव के परिवार में भी सियासी महत्वाकांक्षा की फूट पड़ चुकी है। वनमंत्री के ही राजनैतिक संरक्षण में पले-बढ़े भतीजे प्रमोद यादव ने राजनैतिक महात्वकांक्षा में एक साल पहले हुए जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में सपा टिकट हासिल कर लिया। लेकिन अचानक टिकट कट जाने से दोनों के मन में एक-दूसरे के प्रति कटुता पैदा हो गई।

स्थानीय लोगों ने बताया कि शहर कोतवाली क्षेत्र के उकरौड़ा गांव की एक दावत में शुक्रवार देर रात मंत्री के बेटे विजय यादव और भतीजा प्रमोद यादव अपने-अपने समर्थकों संग बैठे थे। ऐसे में किसी बात पर अचानक दोनों पक्षों में मारपीट और फायरिंग शुरू हो गई।

दोनों के बीच हुए इस खूनी संघर्ष में मंत्री समर्थक पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए, जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है। वहीं पुलिस ने मंत्री के भतीजे प्रमोद यादव समेत नौ लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। मालूम हो कि दोनों ही पूर्व में ब्लॉक प्रमुख रह चुके हैं।


GFR DeskOctober 18, 2016
Union-Minister.Mahesh-Sharm.jpg

1min50

union-minister-mahesh-sharmअयोध्या: केंद्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्यमंत्री महेश शर्मा ने सोमवार को कहा कि वह प्रस्तावित रामायण संग्रहालय के निर्माण स्थल का मुआयना करने के लिए मंगलवार को अयोध्या जाएंगे। शर्मा ने यह भी स्पष्ट किया कि राज्य में होने वाले चुनाव से इस निर्माण का कोई लेना देना नहीं है।

शर्मा ने समाचार चैनल न्यूज18 से कहा, “अयोध्या के मेरे दौरे का राजनीति से कोई लेना-देना नहीं है। मैं वहां का दौरा पर्यटन मंत्री के रूप में करने जा रहा हूं। इसे राजनीति से नहीं जोड़ा जाना चाहिए। यह अयोध्या और पूरे देश में पर्यटन को बढ़ावा देने के सरकार के प्रयास का हिस्सा है। यह दौरा सरकार के विकास के एजेंडे का हिस्सा है।”

उम्मीद की जा रही है कि शर्मा विवादित मंदिर के स्थल पर भी जाएंगे। उन्होंने कहा कि संग्रहालय रामायण सर्किट का हिस्सा होगा जिसके लिए केंद्र सरकार ने 225 करोड़ रुपये स्वीकृत किए हैं। इनमें 151 करोड़ रुपये विशेष तौर पर केवल अयोध्या के लिए है जो इस सर्किट का केंद्र है।

पर्यटन मंत्री ने कहा कि राम करोड़ों लोगों के दिल में हैं। पर्यटन मंत्री के रूप में मुझे देखना है कि अयोध्या का विकास किस तरह से किया जा सकता है और पर्यटन के नजरिए किस तरह से विकसित किया जा सकता है।

अपनी इस यात्रा के दौरान श्र्मा संभवत: रामायण सर्किट के सलाहकार बोर्ड के साथ रामायण से जुड़े नेपाल और श्रीलंका के स्थलों को प्रस्तावित संग्रहालय से जोड़ने के मार्गो पर विचार विमर्श करने के लिए बैठक भी करेंगे।

इस बीच भाजपा नेता और राज्यसभा के सदस्य विनय कटियार ने केंद्र सरकार से अयोध्या में रामजन्म भूमि पर राममंदिर निर्माण के लिए कदम उठाने का आग्रह किया है।

उन्होंने कहा है कि यह सरकार पर निर्भर है कि वह बातचीत के माध्यम से या अदालत से या लोकसभा के जरिए इसके लिए रास्ता तलाश करे।


GFR DeskSeptember 25, 2016
Mulayam-Singh-Yadav-file-p.jpg

1min50

mulayam-singh-yadav-file-pलखनऊ/आजमगढ़: उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी (सपा) के भीतर पिछले दिनों मचे घमासान का असर अब दिखाई देने लगा है। पार्टी की आजमगढ़ इकाई में बड़े पैमाने पर बगावत के चलते सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव ने छह अक्टूबर की अपनी आजमगढ़ रैली स्थगित कर दी है।

आजमगढ़ में सपा जिलाध्यक्ष हवलदार यादव ने कहा कि अपरिहार्य कारणों से मुलायम सिंह की रैली स्थगित की गई है।

सपा सूत्रों के मुताबिक, जिले के युवा संगठनों ने जिस तरह से बगावत का रुख अख्तियार किया है, उससे पार्टी नेताओं के भीतर इस बात का डर सता रहा था कि कहीं मुलायम की रैली फ्लाप न हो जाए।

दो दिन पहले मुलायम के संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ में सपा के सभी चारों युवा संगठनों के अध्यक्षों ने इस्तीफा देकर मौजूदा हालात पर कड़ा विरोध जताया था।

आजमगढ़ की रैली से सपा का चुनावी बिगुल फूंका जाना था। बहुजन समाज पार्टी ने आजमगढ़ से रैली के जरिए पहले ही शक्तिप्रदर्शन कर दिया था।

सपा यहां भीड़ जुटाकर बसपा को करारा जवाब देने की तैयारी कर रही थी। इसी बीच सपा में मचे घमासान ने आजमगढ़ में बगावत जैसे हालात पैदा कर दिए और अंतत: मुलायम सिंह को रैली स्थगित करनी पड़ी। यह रैली छह अक्टूबर को होनी थी।

गौरतलब है कि मुलायम सिंह यादव अपनी चुनावी जनसभा का आगाज आईटीआई मैदान से छह अक्टूबर को करने वाले थे। जिसके लिए मैदान में तैयारियों के साथ ही प्रचार वाहन, वाल राइटिंग, होडिर्ंग इत्यादि की तैयारियां तेजी के साथ चल रही थीं।


GFR DeskSeptember 3, 2016
The-girl.jpg

1min40

The-girlआजमगढ़: एक पिता ने दरिंदगी की सारी हदें पार करते हुए अपनी 12 साल की बेटी से दुष्कर्म किया। पिता की हैवानियत से मासूम बच्ची की अस्पताल में सांसें थम गईं। पुलिस ने आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया है. मामला आजमगढ़ जिले का है।

एसपी अजय कुमार साहनी मुताबिक, आरोपी पिता अपने परिवार के साथ देवगांव में सेराजूद्धीन के यहां किराये पर रहता है। गुरुवार देर रात वह अपनी 12 साल की बेटी सोनू (काल्पनिक नाम) को अचानक पीटने लगा और उसके बाद उसके साथ दुष्कर्म करने की कोशिश की।

नाबालिग की चीख सुनकर उसकी मां उसे बचाने के लिए आई, लेकिन आरोपी पिता ने दोनों को जान से मारने की धमकी दी। उसके बाद उसने घटना को अंजाम दिया. वहशी पिता की हैवानियत से बेटी की हालत बिगड़ गई।

मां ने आनन-फानन बेसुध हालत में अपनी बेटी को पास ही एक अस्पताल में भर्ती कराया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. मृतक की मां की तहरीर के आधार पर पुलिस ने कलयुगी पिता पर दुष्कर्म और हत्या का मामला दर्ज कर शुक्रवार सुबह उसे बहादुरपुर मोड़ से गिरफ्तार कर लिया।

LIKE US:

fb