मौतों पर आंकड़ेबाजी, असल तथ्य छिपा रही योगी सरकार: कांग्रेस

गोरखपुर: बैठे बिठाए विपक्षी दलों को मुद्दा मिल गया है जिस मुद्दे को भुनाने में कोई कोर-कसर विपक्ष नहीं छोड़ना चाहता है। बात कर रहे हैं गोरखपुर बीआरडी मेडिकल कॉलेज के वार्ड में हुई कई दर्जन लोगों की मौत। मेडिकल प्रशासन की लापरवाही से हुई मौतों पर विपक्षी पार्टी राजनीतिक रोटियां सेकने में जुट गई है।

बता दें कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद, प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर, पूर्व मंत्री आरपीएन सिंह, राज्य सभा सांसद प्रमोद तिवारी सहित कई वरिष्ठ कांग्रेसी नेता बीआरडी मेडिकल कॉलेज के इंसेफ्लाइटिस वार्ड निरीक्षण कर मेडिकल कॉलेज के प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बातचीत कर पूरी जानकारी ली और कहा कि यह प्रदेश सरकार की लापरवाही है।

बीआरडी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी से बच्चों की मृत्यु की जानकारी ज़िला अध्यक्ष डॉ सैय्यद जमाल द्वारा हाई कंमान को दिए के बाद शनिवार को सुबह लगभग 10 बजे चार्टर्ड प्लेन से राज्य सभा में विपक्ष के नेता, पूर्व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री और अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महामंत्री ग़ुलाम नबी आजाद, उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष व सांसद राजबब्बर, सांसद प्रमोद तिवारी तथा पूर्व केंद्रीय मंत्री व सांसद डॉ संजय सिंह गोरखपुर हवाई अड्डे पर पहुंचे। हवाई अड्डे से सीधे सभी नेता मेडिकल कॉलेज पंहुच कर पीड़ित परिजनों से मिलें।

पूर्व केंद्रीय मंत्री और झारखंड प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी कुँवर आर पी एन सिंह भी पडरौना से गोरखपुर मेडिकल कॉलेज पहुंचे। जहां दौरा करने के बाद मेडिकल कॉलेज पहुंचे कांग्रेस के नेताओं ने प्रदेश सरकार पर मौतों का जिम्मेदार होते हुए जिला प्रशासन और मेडिकल प्रशासन पर आंकड़े छुपाने वह मृतक के परिजनों को जबरिया एंबुलेंस में भरकर घर भेजने का आरोप लगाया है। वहीं लोगों ने यह भी कहा कि जिला प्रशासन और मेडिकल प्रशासन इस घटना का सही सही आकलन मीडिया तक नहीं पहुंचाया।