क्राइम

गिरधरगंज में हर्ष फायरिंग में दूल्हे के मासूम भांजे की मौत

गोरखपुर: प्रदेश में मांगलिक कार्यक्रमो में होने वाले हर्ष फायरिंग से दुखद घटनाओं को रोकने के लिए उच्च न्यायालय भले ही हर्ष फायरिंग को गलत ठहराते हुए इस पर रोक लगा दिया हो और इसके लिये दंड का प्राविधान कर दिया है लेकिन हर्ष फायरिंग में मौतों का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है।
ताजा मामला गोरखपुर के कैंट थाना क्षेत्र के गिरधरगंज स्थित आवास विकास कालोनी का है। जहाँ रविवार को एक मांगलिक कार्यक्रम में देर रात हर्ष फायरिंग के दौरान गोली लगने स एक बच्चे की मौत हो गई।पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।
बता दें कि गिरधर गंज स्थित आवास विकास कालोनी निवासी ओम सिंह के घर रिशेप्शन पार्टी थी। जिसमे आयी उनकी बहन और मासूम श्रेयांश की माँ को ये नहीं मालूम था जिस भाई की शादी के लिए उसमे हजारो सपने देखे थे। उसी भाई की शादी के दौरान उसकी खुशिया ही काफूर हो जायेगी।
रिशेप्शन पार्टी चल रही थी जिसमे कुछ लोग हर्ष फायरिंग कर रहे थे फायरिंग के दौरान ही दुल्हे के भांजे 10 वर्षीय श्रेयांश को गोली लग गई। जिसे इलाज के लिए मेडिकल कालेज लाया गया। जहाँ चिकित्सको ने उसे मृत घोषित कर दिया। श्रेयांश अपनी माँ बाप का एकलौता बेटा था।
इस संबंध में एसपी सिटी हेमराज मीणा ने बताया कि रिसेप्सन के दौरान हर्ष फायरिंग में बच्चे को गोली लगी। इस घटना में जिसका नाम आ रहा है उसकी पहचान दिलीप दुबे के रूप में हुई है। जो अवैध हथियार से फायरिंग कर रहा था । जिसको हिरासत में ले लिया गया है और मामले की जांच की जा रही है।
फिलहाल घटना के बाद से ही घर का माहौल बदल गया है। कल तक जिस घर में मांगलिक समारोह में खुशियों का दौर चल रहा था ,आज वहां मातम है।ऐसे में जरुरत है तो इस तरह की घटनाओं पर रोक लगाने की ।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *