टॉप न्यूज़ देवरिया / कुशीनगर

VIDEO: देवरिया से एक और कांग्रेसी नेता ने ठोंकी ताल, बोले टिकट मिला तो लहरायेंगे परचम

देवरिया: कुछ ही दिनों में इस वर्ष होने वाले आम चुनाव को लेकर घोषणा हो सकती है। ऐसे में सभी लोक सभा क्षेत्रों से कई दावेदारों के नाम सामने आ रहे हैं। इसी क्रम में देवरिया लोक सभा क्षेत्र से 66 कांग्रेस एक नेता ने अपनी दावेदारी पेश करते हुए कहा है कि यदि पार्टी उन्हें अपना उम्मीदवार बनती है तो वो इस लोक सभा क्षेत्र से जीत कर परचम लहरायेंगे।

उन्होंने कहा है कि करीब करीब तीन दशक से यहां चुनाव में सूखा झेल रही पार्टी को देवरिया की सीट जीत कांग्रेस को उपहार देंगे। कांग्रेसी नेता पं.ज्ञानेश्वर मिश्र ने कहा कि वे कांग्रेस का झंडा वर्षों से ढो रहे हैं और पार्टी की नीतियों और उसके सिद्धांतों को क्षेत्र में लेकर प्रचार करता रहता हूं।

श्री मिश्र ने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में कांग्रेस एक बड़ी पार्टी बनकर उतरेगी और अपनी सरकार बनायेगी। उन्होंने कहा कि प्रियंका गांधी के महासचिव बनने से पार्टी और मजबूत हुई है।

बता दें कि देवरिया में अभी तक के हुये लोकसभा के चुनावों में कांग्रेस ने यहां से छह बार विजय प्राप्त की है। लेकिन बड़ी बात यह है कि 1984 के बाद से यहां कांग्रेस का खाता नहीं खुल सका है। देवरिया गोरखपुर से कटकर 1946 में जिला बना था। 1951 में यहाँ से कांग्रेस के प्रत्याशी बिश्वनाथ राय ने जीत दर्ज की थी। 1957 के आम चुनाव में प्रजा सोशलिस्ट पार्टी रामजी वर्मा यहाँ से सांसद बने थे। उसके बाद से लगातार तीन बार सन 1971 तक कांग्रेस के बिश्वनाथ राय जीतते रहे।

बिश्वनाथ राय के जीत के सिलसिले को भारतीय लोक दल के नेता देवता मणि त्रिपाठी ने 1977 के चुनाव में तोडा। 1980 में देवता मणि यहाँ से फिर जीत दर्ज कर संसद पंहुचे। हालांकि 1984 के चुनाव में इस क्षेत्र के कद्दावर नेता राज मंगल पांडेय ने जीत दर्ज कर इस सीट पर कांग्रेस का परचम एक बार फिर लहराया। अंतिम बार कांग्रेस के राज मंगल पाण्डेय ही यहां से विजयी हुये थे। इसके बाद से यहां से कांग्रेस का कोई भी उम्मीदवार विजय प्राप्त नहीं कर सका है।

देवरिया संसदीय क्षेत्र में पांच विधानसभा देवरिया, रामपुर कारखाना, पथरदेवा, फाजिलनगर और तमकुही राज आती हैं। जिसमें से एक तमकुहीराज में कांग्रेस के लल्लू सिंह विधायक हैं। बाकी चार विधानसभा क्षेत्रों पर भाजपा का ही कब्ज़ा है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *