देवरिया / कुशीनगर

विश्व को राह दिखाने वाले भारत में हिंसा और नशे का कोई स्थान नहींः श्री श्री रविशंकर

विश्व को राह दिखाने वाले भारत में हिंसा और नशे का कोई स्थान नहींः श्री श्री रविशंकर

देवरिया: आध्यात्मिक गुरू श्री श्री रविशंकर ने मंगलवार को यहां एक सम्मेलन में कहा कि कभी विश्व को धर्म के मामले में राह दिखाने वाला भारत में हिंसा, नशा और दहेज का कोई स्थान नहीं है।

श्री श्री रविशंकर देवरिया में वाराणसी से अनुग्रह विशेष रेल से पधारते हुये एक सम्मेलन में कहा कि कोई देश व समाज तभी सुखी हो सकता है।जिस देश और समाज में हिंसा, नशा और दहेज का कोई स्थान ना हो ।नशा मनुष्य को दुर्बल कर देती है।इसी तरह से जिस समाज में दहेज का चलन हो,वह समाज आगे नहीं बढ़ सकता है।

उन्होंने उपस्थित लोगों का आह्वान करते हुये कहा कि नशा,हिंसा और दहेज रूपी दानव का त्याग करें।किसानों को जैविक खेती करने का आह्वान करते हुये कहा कि इससे जहां खेत की उर्वरा शक्ति बने रहने के साथ पैदावार भी ज्यादा होती है। उन्होंने अपील करते हुये कहा कि देशी बीज को खेती में स्थान दें।हमारी संस्था जैविक खेती और देशी बीज के लिये मदद भी करेगी।

स्वच्छता अभियान की चर्चा करते हुये उन्होंने कहा कि देश में हमने 2010 से ही स्वच्छता अभियान की शुरूआत कर दी थी और अब देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज इसे एक नयी धार दे दिया है।देश श्री मोदी और उत्तर प्रदेश श्री योगी के कुशल निर्देशन में आगे बढ़ रहा है।

श्री राम मंदिर निर्माण का अदालत के बाहर आपसी समझौते के बात कहने वाले श्री रविशंकर से जब सवाल किया गया कि अयोध्या में श्री राम मंदिर विवाद का क्या हल, पर कहा कि कहा किश्री राम मंदिर आपसी सहमति से बने तो अच्छा रहेगा। इसके लिये हमारा प्रयास जारी रहेगा।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *