फाइनल रिपोर्ट स्पेशल

'आँखों में पट्टी बाँध व स्पर्श से सब कुछ बता देती है 11 साल की अंशिता

Anshita-of-Gorakhpurगोरखपुर: शहर में एक ऐसी बच्ची है जो अपने आँखों पर पट्टी बाँध कर और हाथो के स्पर्श से किसी भी लिखावट, रंगो और वस्तु के बारे में सटीक जवाब दे देती है। क्यों है न चोकाने वाली बात, कुछ तो खास है न।
जी हां महज 11 साल की इस छोटी सी उम्र में अंशिता ने बड़े से बड़े लोगो के बिच अपने दिमाग का लोहा मनवाने पर मजबूर कर दिया है| शहर में भी इस बच्ची की चर्चा जोर सोर से हो रही है। अपनी बेटी की इस हुनर पर डॉ उमेश गुप्ता को काफी नाज़ है और वो अपनी बेटी की हौसला अफजाई में लगे हुए है|
Anshita-of-Gorakhpur-1गोरखपुर के शाहपुर में कृष्णापुरम कालोनी के रहने वाले डॉ उमेश गुप्ता पेशे से होमियोपैथिक चिकित्सक है उनकी 11 साल की बेटी अंशिका केन्द्रीय विद्यालय के कक्षा 5 में पढ़ती है। माता नीतू देवी गृहणी है।
डॉ उमेश बताते है की 3,4 महीने पहले उन्हें अपनी बेटी के इस हुनर के बारे में जानकारी हुई तो उन्होंने करीम नगर चौराहे पर स्थित सनराइज एजुकेशन एण्ड कंप्यूटर सेंटर में दाखिला करा दिया। इस सेंटर पर बच्चों के ब्रेन डवलपमेंट के लिए जीनियस माइंड एकेडमी का संचालन होता है। यहाँ पर 5 से 15 साल तक के बच्चे इसमें दाखिला लेकर अपने मानसिक स्तर में वृद्धि करते है।
फिलहाल उमेश अपनी बेटी की रूचि और अपने दिल की बात को मानते हुए अपनी बेटी अंशिता का दाखिल यहाँ पर कराया और देखते ही देखते आज वो इस एकेडमी की टॉपर बच्चियो में शुमार रखने लगी है।
एकेडमी के टीचर भी अब उसके इस हुनर का लोहा मानने लगे है। शहर के तमाम बड़े स्कूलोँ में होने वाले जीनियस माइंड प्रतियोगिताओ में इस बच्ची ने अपने इस नायाब हुनर का लोहा मनवा चुकी है। फिलहाल अंशिता पिछले 2 महीने स्पर्स कला के जरिए अभ्यास कर रही है और वो निरंतर अपने हुनर में महारत हासिल भी कर रही है।
अब आलम यह है की अंशिता के आँखों में पट्टी बाँध दी जाती है और वो छूकर कपड़ो का रंग, लिखावट के बारे में, किसी भी आकृति का सटीक जवाब दे रही है और अंशिता अपने क्लास में पढाई में भी अव्वल है।

गोरखपुर की हर खबर यहाँ पढ़े http://gorakhpur.finalreport.in/ 

LIKE US:

fb
AD4-728X90.jpg-LAST

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *