फाइनल रिपोर्ट स्पेशल

केंद्र ने दी गन्ना शोध संस्थान की भूमि पर एम्स स्थापना की मंजूरी; 1600 करोड़ रुपये का होगा निवेश

Image-for-representation-3गोरखपुर: शहर में नये खाद कारखाना की स्थापना की मंजूरी के साथ ही भारत सरकार ने गोरखपुर में कुड़ाघाट स्थित गन्ना शोध संस्थान में ‘एम्स’ की स्थापना हो, इसके लिए अपनी सहमति दे दी है। 22 जुलाई को भारत सरकार के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दोनों कार्यो का शिलान्यास करेंगे।
उक्त जानकारी गोरखपुर के सांसद महन्त योगी आदित्यनाथ ने दी। उन्होंने बताया कि यह पूर्वी उत्तर प्रदेश में आजादी के बाद का सबसे बड़ा निवेश है।
उन्होंने कहा की गोरखपुर समेत पूर्वी उत्तर प्रदेश के लोगों का यह सौभाग्य है कि उन्हें यह अवसर भारत सरकार के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कारण प्राप्त हो रहा है जिससे कि वे भी विकास योजनाओं का लाभ ले सकेंगे।
योगी ने बताया कि भारत सरकार ने तीन उर्वरक सयंत्र गोरखपुर, बरौनी और सिन्दरी के पुनरूद्वार को अपनी मंजूरी दी है जिनमें प्रत्येक ईकाई स्थापित होने के बाद 13 लाख मिट्रिक टन उर्वरक का उत्पादन प्रतिवर्ष करेगी और इस पर रू0 18 हजार करोड़ भारत सरकार के सार्वजनिक उपक्रम एन.टी.पी.सी., कोल इण्डिया तथा इण्डियन आयल कारपोरेशन निवेश करेगी।
इसके साथ ही हल्दिया से जगदीशपुर गैस पाइप लाइन बाया गोरखपुर होते हुए गैस अथारिटी आफ इण्डिया बनायेगी। इसपर भी लगभग 18 हजार करोड़ रुपये का निवेश होगा।
उन्होंने कहा की गोरखपुर में एम्स निर्माण में रू 1600 करोड़ का निवेश भारत सरकार करेगी। यह गोरखपुर समेत पूर्वी उत्तर प्रदेश में आजादी के बाद का सबसे बड़ा निवेश है। यह यहा की गरीबी को दूर करने, औद्योगिक वातावरण बनाने, लाखों नौजवानों को नौकरी और करोड़ों लोगों के लिए रोजगार सृजन भी होगा।
उनका कहना था की ‘एम्स’ की स्थापना यह गोरखपुर समेत पूर्वी उत्तर प्रदेश की महत्वपूर्ण उपलब्धि मानी जा सकती है।
उन्होंने कहा,” एम्स स्थापना की मंजूरी हमलोगों की लम्बे अर्से से चली आ रही चिरपरिचित मांग थी। एम्स की स्थापना होने से गोरखपुर समेत पूर्वी उत्तर प्रदेश एवं पश्चिमोत्तर बिहार के नागरिकों को न केवल विश्वस्तरीय स्वास्थ्य सेवाए उपलब्ध हो जायेगी अपितु इन्सेफ्लाइटिस, डेंगू रोग, हृदय रोग, गुर्दा रोग, कैंसर और अन्य सभी प्रकार की बीमारियों के उपचार एवं अनुसंधान की सुविधा गोरखपुर में उपलब्ध हो जायेगी।”
हमारा फेसबुक पेज LIKE करना न भूले:
fb

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *