फाइनल रिपोर्ट स्पेशल

बाई रोड नोएडा से गोरखपुर पहुंचिये मात्र 10 घण्टों में; अक्टूबर में हो सकता है देश के सबसे लंबे एक्सप्रेसवे का उदघाटन

 
Lucknow-agra-expressway-likलखनऊ: गोरखपुर और उसके आस पास के जिलों के निवासी जो रोजी-रोटी, नाम और पैसा कमाने की खातिर अपने घर से दूर देश की राजधानी दिल्ली में रह रहें हैं उनके लिए एक बड़ी खुशखबरी है। अगर सब कुछ प्लान के हिसाब से चलता रहा तो प्रदेश के मुख्य मंत्री अखिलेश यादव अक्टूबर के महीने में देश के सब से लंबे एक्सप्रेसवे का उदघाटन कर देंगे। इस निर्माणाधीन लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे से दिल्ली से गोरखपुर रोड के माध्यम से पँहुचने में मात्र 10 घंटे लगेंगे।
13,200 करोड़ रुपये की लागत से बन कर तैयार होने वाला यह एक्सप्रेसवे शुरुवात में तो 6 लेन का होगा लेकिन इसमें बाद में 8 लेन तक का बनाया जा सकता है। इस एक्सप्रेसवे पर 3 किलोमीटर एक ऐसी पट्टी भी होगी जहा एयर फ़ोर्स के लड़ाकू विमानों को उतार जा सकेगा। यह अपने आप में देश का पहला ऐसा एक्सप्रेसवे होगा जहा लड़ाकू विमानों को उतरने की भी सुविधा होगी।
google-mapआगरा से शुरू होकर उन्नाव, कन्नौज, इटावा, मैनपुरी और फिरोजबाद होकर लखनऊ तक जाने वाला यह एक्सप्रेसवे गोरखपुर से दिल्ली या नॉएडा तक लगने वाले सफर के समय को लगभग तीन से चार घंटे और कम कर देगा। यह एक्सप्रेसवे नोएडा-आगरा ताज एक्सप्रेसवे से आगरा में कनेक्ट होगा और अभी नोएडा से लखनऊ तक सफर करने में 7 से 8 घंटे लगते हैं जो की इस एक्सप्रेसवे के शुरू हो जाने के बाद घाट कर 3.5 घंटे से भी काम का समय लगेगा।
अंग्रेजी अखबार इकनोमिक टाइम्स के अनुसार, अखिलेश सर्कार इस एक्सप्रेसवे के साथ दो फार्म मंडी, एक लॉजिस्टिक हब और एक आईटी सिटी को भी लाएगी। इस एक्सप्रेसवे का निर्माण अफकॉन्स, लार्सेन एंड टूब्रो, एनसीसी, और पीएनसी इंफ्राटेक जैसी कंपनियां कर रही है।
Image-for-representation-1खास बात यह है के देश में अपने आप में यह पहला एक्सप्रेसवे होगा जिस के किनारे 10 प्राइमरी स्कूल, एक हॉस्पिटल भी बनेंगे। आर्मी के फाइटर एयरक्राफ्ट के लिए इस एक्सप्रेसवे पर अलग से एक एयर स्ट्रिप भी बन रही है साथ में फाइटर प्लेन को रखने के लिए इस अनूठे एक्सप्रेसवे पर हेंगर भी बनेगें। आपातकालीन परिस्थितयों के लिए इस एक्सप्रेसवे पर एक ट्रामा सेंटर भी बनेगा। पुरे एक्सप्रेसवे पर 13 बड़े पुल, 54 छोटे पुल, 2 फ्लाई ओवर, 74 अंडरपास, और टोल प्लाजा भी होंगे।
नोएडा से गोरखपुर जाने वालों के लिए अब तक आगरा जाने तक के लिए एक वर्ल्ड क्लास एक्सप्रेसवे तो था लेकिन आगरा के बाद लखनऊ तक जाने के लिए किसी एक्सप्रेसवे का अभाव था। यह 302 किलोमीटर लम्बा एक्सप्रेसवे उस कमी को पूरी का देगा।
यह निर्माणाधीन एक्सप्रेसवे यमनुा एक्सप्रेसवे से आगरा रिंग रोड के माध्यम से जुड़ेगा। यह एक्सप्रेसवे आगरा के निकट एत्मादपुर मद्र से शुरू होकर लखनऊ के मोहन नगर रोड पर मोफन सरोसा गाँव के पास ख़त्म होगा।
LIKE US:

fb

 

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *