फाइनल रिपोर्ट स्पेशल

गोरखपुर जनपद में सपा का मिशन 2017 पिछले चुनाव की राह पर तो नहीं !

image-for-representation-3गोरखपुर: प्रदेश की सत्ताधारी पार्टी सपा कहीं 2012 की राह तो नही चल पड़ी है। क्योंकि सपा सरकार के विकास कार्यों को किनारे रखकर देखा जाये तो दोबारा सत्ता सुख पाने को बेताब पार्टी का मिशन 2017 भी कुछ हद तक अपनी पुनरावृति कर रहा है। इसकी वजह पार्टी के अंदरखाने में विरोध, प्रत्याशिता पर प्रश्नचिन्ह व कार्यकर्ताओ के द्वारा किये जा रहे अच्छे बुरे काम भी है।
बता दें कि 2012 में भले ही सपा ने पूरे प्रदेश में चहुंतरफा जीत हासिल कर सम्मानजनक स्थिति में सरकार बनायी थी, किन्तु गोरखपुर जनपद में सपा के कई महारथियों की मौजूदगी के बाद भी महज एक सीट से संतोष करना पड़ा था। वह भी पार्टी के नाम पर नही बल्कि पिपराइच क्षेत्र के समर्पित नेता स्व यमुना निषाद की मृत्यु के बाद उपजी सहानुभूति लहर ने उनकी पत्नी श्रीमती राजमती निषाद के खाते में विजय पत्रिका डाल दी थी।
किन्तु अब हालात जस के तस नही है। अब जनता अपने माननीयो द्वारा विगत 5 वर्षों में किये गए कार्यो को गिनना शुरू कर दी है।
बात करें सपा के मिशन 2017 की तो पार्टी ने अब तक जनपद की नौ सीटों में से जिन आठ सीटों पर उम्मीदवार घोषित किया है। उनमें नगर विधान सभा क्षेत्र से नगर निगम के पार्षद संजय सिंह, ग्रामीण से निवर्तमान बीजेपी विधायक विजय बहादुर यादव, चौरीचौरा से ब्लाक प्रमुख केशव यादव, खजनी से जोखू पासवान, बासगाँव से पहले संजय पहलवान बाद में शारदा देवी, कैम्पियरगंज से चिंता यादव, पहले चिल्लूपार अब शंशोधित गोला सीट से राजेंद्र सिंह पहलवान और सहजनवा से (यशपाल रावत, मनोज यादव) टिकट की रस्साकसी यथावत जारी है। किंतु अब तक अपनी एकमात्र जीती हुई सीट पर प्रत्याशी की घोषणा नही की गयी है।
अब अगर देखें तो इनमे से कोई भी ऐसी सीट नही है, जहां पर प्रत्याशियों द्वारा शत प्रतिशत जीत का दावा किया जा सके। इसका कारण जिन जगहों पर पूर्व के प्रत्याशियों के टिकट कटे है,वह चुनाव के दौरान ही अपनी खीझ वोट काटकर निकालेंगे और जिन जगहो पर जिला पदाधिकारीयो के सिफारिश को अनदेखा कर टिकट दिया गया है वहाँ भितरघात की भावना चलनी तय है।
साथ ही घोषित प्रत्याशियों के साथ उनके द्वारा किये गए कार्यो और उनकी जनमानस में छवि भी जनता का वोट काटने और बटोरने में सहायक होगी। कुल मिलाकर सपा का मिशन 2017 अब 2012 के नक्शे कदम पर चल रहा है।
LIKE US:

fb

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *