फाइनल रिपोर्ट स्पेशल

चल रहा था धरना-प्रदर्शन, लेकिन पंडित जी संग सेल्फी खिचाने में मशगूल रहे लोग

गोरखपुर: आज जिलाधिकारी कार्यालय पर जब पूर्व मंत्री हरिशंकर तिवारी और उनके पुत्र चिल्लूपार के विधायक विनय शंकर तिवारी के घर हाता पर छापे के विरोध में बसपा द्वारा आयोजित धरना-प्रदर्शन चल रहा था, तो ठीक उसी वक्त धरने में शामिल होने तमाम जगहों से आए लोग धरनास्थल से कुछ दूर बैठे पूर्व काबीना मंत्री पंडित जी के साथ सेल्फी खिंचवाने में मशरूफ दिख रहे थे।
बता दें कि गत शनिवार को पूर्व काबीना मंत्री, चिल्लूपार के पूर्व विधायक एवं पूर्वांचल की नामी हस्ती पँ हरिशंकर तिवारी के हाता पर एक अपराधी की तलाश में छापा मारा गया था। इस छापे की खबर ज्योंही आम हुई तो पूरे जिले में उनके शुभेच्छुओं द्वारा हाता में पहुंचकर हाल चाल लेने का सिलिसिला शुरू हो गया। हालाँकि पँ हरिशंकर तिवारी के सुपुत्र पँ विनय शंकर तिवारी मौजूदा समय में चिल्लूपार से बसपा के इकलौते विधायक है।
लिहाजा एक विधायक के आवास पर बिना किसी सूचना और सर्च वारंट के छापा मारने को विधायक के विशेषाधिकार का हनन मानते हुए बहुजन समाज पार्टी ने इस मुद्दे पर राजनितिक रंग देते हुए पूरे प्रदेश में धरना प्रदर्शन का ऐलान कर दिया। सुबह 11 बजे से शुरू हुए इस धरने में हालाँकि विधायक पँ विनय शंकर तिवारी और बसपा नेताओं ने शिरकत की है।
वाबजूद इसके पँ हरिशंकर तिवारी खुद हाता से निकल कर पैदल चलकर डीएम ऑफिस कैम्पस पहुंच गए। जहाँ गर्मी की वजह से उन्हें शुभचिंतको ने कुछ दूरी पर एक पेड़ के नीचे छाया में बैठा दिया। जहाँ उनके शुभचिंतक बुजुर्ग होने के नाते उनका पैर छूकर आशीर्वाद भी ले रहे है। किंतु बड़ी बात ये रही कि लोग पूर्व मंत्री का पैर छूते हुए सेल्फी खिंचवाने में मशगूल रहे।
सेल्फी की होड़ में कोई उनके पैर पर झुका हुआ फोटो खिंचवा रहा था, तो कोई बगल में खड़ा चाय की चुश्की लेते हुए स्नैप खिंचवाते दिख रहा था। सेल्फी लेने वालों का ये आलम था कि जब टेंट के नीचे धरना स्थल पर बैठना होता था तो गर्मी का हवाला देते हुए लोग धीरे से सरक कर पूर्व काबीना मंत्री के पास आकर दाहिने बाएं खड़े होकर सेल्फी खिंचवाने का जुगाड़ लगाते दिखे।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *