बारिश बनी काल, सिद्धार्थनगर में लगभग 300 गाँव बाढ़ की चपेट में

सिद्धार्थनगर: जिले में भारी बारिश के चलते नेपाल से निकलने वाली बूढी राप्ती, कूडा और घोघी नदिया खतरे के निशान के ऊपर बह रही है जिससे तीन सौ से अधिक गांव बाढ की चपेट में आ गये है । प्रशासन ने हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है।

आधिकारिक सूत्रों ने आज यहां बताया कि बूढीराप्ती नदी खतरे के निशान से ढाई मीटर ऊपर बह रही है और उसका जलस्तर प्रतिघण्टे दस सेमी बढ रहा है। जिले के नौगढ, शोहरतगढ, इटवा और डुमरियागंज तहसील के तीन सौ से अधिक गांव बाढ की चपेट में आ गये हैं।

सैकडों गांव बाढ के पानी से पूरी तरह घिर गये हैं। बाढ पीडितों ने राहत के इन्तजार में मकान की छतों और पेडों पर शरण ले रखी है।