दो दिवसीय गोरखपुर लिटरेरी फेस्ट शनिवार से प्रारम्भ

गोरखपुर: गोरखपुर लिटरेरी फेस्ट (जीएलएफ) शनिवार व रविवार को गोरखपुर विश्वविद्यालय के संवाद भवन में होगा। शुभारंभ साहित्य अकादमी के अध्यक्ष आचार्य विश्वनाथ प्रसाद तिवारी करेंगे। यह जानकारी संयोजक डा. संजय श्रीवास्तव व आयोजन समिति से जुड़े शैवाल शंकर श्रीवास्तव ने दी।

दो दिवसीय आयोजन में साहित्यिक व समसामयिक विषयों पर चर्चा होगी। पहले दिन ‘क्या साहित्य लेखन जकड़नों से मुक्त हुआ है’ विषय पर साहित्यकार चित्रा मुद्गल, रामदेव शुक्ल, प्रभात रंजन, डा. देवेंद्र व प्रो. चित्तरंजन मिश्र अपने विचार रखेंगे।

इस कार्यक्रम में गोरखपूरियत के बहाने विषयक विमर्श होगा। साथ ही साहित्यिक गैलरी भी लगाई जाएगी, जिसमें नामचीन कलाकारों के चित्र, जीवन व साहित्यिक वृत्त का प्रदर्शन भी होगा। इसके अंतर्गत पुस्तक, पेंटिंग, कार्टून व फोटो प्रदर्शनी भी लगाई जाएगी। सायंकालीन सत्र में अलग-अलग क्षेत्रों के 11 लोगों को प्राइड ऑफ गोरखपुर अवार्ड से भी सम्मानित किया जाएगा।

दूसरे दिन सुधाविंदु त्रिपाठी जन्मशती समारोह, पुस्तक लोकार्पण व विमर्श के पश्चात शाम को रूपांतर नाट्य मंच की तरफ से गिरीश कर्नाड कृत ‘मा निषाद’ का भी मंचन होगा।

Martia Jewels
Martia Jewels
Martia Jewels