अगले साल तक शुरू हो सकती है गोरखपुर एम्स में ओपीडी सेवा: सीएम योगी

गोरखपुर: अपने गृह जनपद के दौरे के दूसरे दिन सीएम योगी आदित्यनाथ ने महानगर के लोगों को एक बड़ी खुशखबरी सुनाते हुए कहा है की सरकार प्रयास करेगी कि अगले साल गोरखपुर एम्स के लिए यहां पर ओपीडी शुरू हो जाए।

योगी ने कहा की फर्टिलाइजर का यहां पर निर्माण हो रहा है। हम विकास की कई योजनाओं को एक नई गति देने की तैयारी में हैं। उन्होंने चीनी मिलों को पूर्वी उतर प्रदेश की पहचान बताते हुए कहा कि राज्य सरकार की तरफ से हम लोग 2 नई चीनी मिलें यहां लगाने जा रहे हैं।

यूपी में विकास के साथ ही अन्य कार्य और कानून-व्यवस्था की जमीनी हकीकत परखने को प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ अब जिलों के दौरों पर हैं। जिसकी शुरुआत योगी ने अपनी कर्मभूमि गोरखपुर से की है। गोरखपुर पहुंचे योगी आदित्यनाथ ने वहां के विकास कार्य और कानून व्यवस्था का जायजा लिया।

आज सुबह गोरखपुर से अगले पड़ाव महराजगंज जाने से पहले योगी ने कहा कि यूपी में विकास कार्यों को एक नई गति देने का प्रयास हो रहा है। प्रदेश में सुशासन और कानून की स्थापना हो, इस दिशा में प्रयास हो रहा है।

उन्होंने कहा कि इस साल हम लोगों ने प्रयास किया है कि ग्रामीण क्षेत्र में 10 लाख गरीबों को प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत आवास उपलब्ध कराया है और शहरी क्षेत्र में 2 लाख आवास देने का प्रयास किया जा रहा है। इस योजना की शुरुआत गोरखपुर से की है। 5 हजार एक सौ 29 परिवारों को यहां पर हम लोगों ने आवास के लिए चिन्हित किया है, और प्रयास है कि उतर प्रदेश के शहरी क्षेत्र में 2 लाख आवास की सुविधा करें।

बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ का भले ही ये 7 वा दौरा है, बावजूद इसके आदित्यनाथ के दिनचर्या में कोई भी तबदीली नहीं आई है। आज भी वो पहले की ही तरह सुबह 4 बजे उठ कर पूजा अर्चना करने के बाद अपने गुरु का आशीर्वाद लेने के बाद सीधे गौशाला पंहुचे, और वहां पर सभी गायों, बछड़ों को बारी-बारी अपना स्नेह दिया और उन्हें गुड चना खिलाया।

उसके बाद योगी ने अपने प्रिय कुत्ते कालू को दुलार किया और फिर पुरे मंदिर का भ्रमण करने के बाद अपने कार्यालय के बगल में आगंतुक कक्ष में बैठ कर तकरीबन कार्यकर्ताओं से मिलकर उनकी फरियाद सुनी और उन्हें आशीर्वाद दिया।