18 दिसम्बर से गोरखपुर से दिल्ली की सफर करा सकती है हमसफ़र, प्रभु दिखाएंगे हरी झंडी

गोरखपुर: गोरखपुर से दिल्ली के बीच हमसफ़र एक्सप्रेस ट्रेन चलने को है तैयार। बेहतरीन सुविधाओ से लैस देश की पहली हमसफ़र एक्सप्रेस ट्रेन चलाने की तारीख तय हो गयी है। गोरखपुर-आनंद विहार के बीच प्रस्तावित इस ट्रेन का उद्घाटन विश्व प्रसिद्द स्टेशन गोरखपुर से ही होगा।

रेल मंत्री सुरेश प्रभु आगामी 18 दिसंबर को दोपहर तीन बजे रेल भवन, नई दिल्ली से विडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से ट्रेन को हरी झंडी दिखाएंगे तो, ठीक उसी समय गोरखपुर रेलवे स्टेशन आयोजित कार्यक्रम में सदर सांसद योगी आदित्य नाथ हमसफ़र एक्सप्रेस को रवाना करेंगे।

उद्घाटन समारोह का पूरा कार्यक्रम एक-दो दिन में जारी होने की उम्मीद है। इस ट्रेन में मानक के अनुसार अधिकतम 22 कोच लगेंगे। इन ट्रेनों में सीसीटीवी, जीपीएस आधारित पैसेंजर इनफार्मेशन सिस्टम, फायर एंड स्मोक डिटेंशन सिस्टम के साथ साथ हेर बर्थ पे मोबाइल और लैपटॉप चार्जिंग की सुविधा उपलब्ध होगी। इसके इंटीरियर और एक्सटीरियर भी बाकी ट्रेनों से एकदम अलग होंगे। इन ट्रेनों को व्यस्त रूटों पर चलाया जायेगा।

अपनी विशेष सुविधाओं के कारण खास है हम सफर

ट्रेन की बर्थ अन्य ट्रेनों की तुलना में ज्यादा आराम दायक बनायी गयी है । इसके अतिरिक्त अन्य ट्रेनों की बाहरी डिजाइन से हटकर इसे डिजाइन किया गया है।इसमें सी ब्लू कलर का उपयोग हुआ है तथा महाराजा एक्सप्रेस की तर्ज पर विनाइल सीट लगी हुई है। साथ ही इस विशेष ट्रेन में सभी कोच सीसीटीवी कैमरे से लैस है और इसके कोच 160 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से दौड़ाए जा सकेंगे ।

इसके अतिरिक्त इस हमसफ़र ट्रेन के हर कोच में ऑटोमेटिक वेडिंग मशीन लगी है।जिससे यात्री खुद ही सुप काफी एवं चाय ले सकेंगे। बर्थ में बेहतर पैड लगाए जाने से ऊपर की बर्थ में ज्यादा आरामदायक हेड रेस्ट है। प्रत्येक बर्थ के साथ मोबाइल एंड लेपटॉप चार्जिंग प्वाइंट है साथ ही इन में जीपिएस आधारित यात्री सूचना तंत्र भी है ।

ट्रेन के डिब्बे ( कोच )लिकमेन हाफमैन बुश (एलएचबी) तकनीक वाले होंगे । जिससे यात्रा के वक़्त इनमें स्टेशन का नाम सहित अन्य जानकारियों के लिए डिस्प्ले बोर्ड को देखकर पता किया जा सकेगा ।

जबकि दृष्टिहीन यात्रियों के लिए ब्रेल लिपि में बर्थ नंबर वं अन्य जानकारियां लिखी है। इस ट्रेन में बायो टॉयलेट की सुविधा है। टॉयलेट में फ्लश इंटीरियर बदबू नियंत्रण तंत्र के साथ आग धुंए की सूचना देने वाला सिस्टम भी होगा।