गोरखपुर

कैसे होगी सड़क सुरक्षा जब शहर में चल रहीं हैं ओवरलोडेड डग्गामार गाड़ियां

Heavily-loaded-vehicles-in-हरिकेश सिंह (वरिष्ठ संवाददाता)
गोरखपुर: जिला मुख्यालय से ग्रामीण क्षेत्रों में जाने वाले निजी भार वाहन इन दिनों यातायात पुलिस की कृपा दृष्टी से बेलगाम हो चुके है। ये यात्रियों को भेड़-बकरियों की तरह ठूस लेते है साथ ही गाडी की छत पर भारी भारी गट्ठर लाद लेते है। ऐसे में दुर्घटना की सम्भावनाये बढ़ जाती है।
जिले से ग्रामीण क्षेत्रो की रोड पर चलने वाली कमांडर जीपों में ओवरलोडिंग रोज का तमाशा बन चुका है। ये गड़ियां सवारी तो लटका ही लेते है साथ में कैरियर में इतना मॉल होता है की किसी भी समय दुर्घटना हो सकती है।
कौन सा बोरा या गठ्ठर किसके सिर पर गिर जायेगा कुछ कहा नही जा सकता। हद तो तब होती है जब जिला मुख्यालय से ही गाडी के ऊपर इतना सामान लोड कर के चलते ड्राइवर को हर चौराहे पर खड़े ट्रैफिक पुलिस वाले भी नज़रअंदाज़ कर देते हैं।
हालांकि ऐसा नहीं है कि इस ओवर लोडिंग को अधिकारी न देखते हो।आखिर क्या वजह है इतने मात्रा में ओवरलोडिंग गाड़ियों के चलने का। क्यों नही पड़ती पुलिस की नजर इन गाडियो पर । जबकि जिले में यातायात की समस्या को सुलझाने के लिए एक एस पी, सी ओ और पर्याप्त मात्रा में पुलिस फ़ोर्स मौजूद है।बावजूद इसके सब कुछ राम भरोसे चल रहा है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *