गोरखपुर

गोरखपुर महोत्सव: दूसरा दिन रहा बच्चों व महिलाओं के नाम

Gorakhpur-Mahotsav-4गोरखपुर: गोरखपुर महोत्सव का दुसरा दिन यानि की शनिवार पूरी तरह से बच्चों व महिलाओं के नाम रहा। फेस्टिवल में में चित्रकला प्रतियोगिता, फैन्सी ड्रेस प्रतियोगिता और एक सुर समूह गान का आयोजन किया गया।
चित्रकला प्रतियोगिता में 71 स्कूलो के लगभग 4200 बच्चों ने भाग लिया । जिसे तीन भागों में बाटा गया था। पहला प्राइमरी जिसमे क्लास एक से पांच तक बच्चों को पर्यावरण, कार्टून और बचत के थीम चित्रकारी करनी थी तो वही दूसरा ग्रुप जूनियर का था जिसमे क्लास 6 से 8 तक के बच्चों को त्यौहार, साफसफाई और पुरातत्व थीम आधारित चित्रकला बनानी थी।

तीसरे वर्ग में सीनियर बच्चों का था जिस में क्लास 10 से 12 तक के बच्चों ने भाग लिया। इस बच्चों को स्वक्षता मिसन इत्यादि के थीम दिए गए थे।
निर्णायक गोरखपुर विश्वविद्यालय कला संकाय के हेड भारत भूषण को बनाया गया था।
Gorakhpur-Mahotsavफैन्सी ड्रेस प्रतियोगिता में शहर के 25 स्कूलो के सैकड़ो बच्चों ने हिस्सा लिया । जिसमे बच्चों ने रंग बिरंगे कपड़ो में नजर आये। बच्चों ने पर्यावरण, भ्रूण हत्या, पृथ्वी, शोसल मिडिया, महाराणा प्रताप, श्रवण कुमार, विवेकानन्द, शेव गर्ल, अर्द्धनारिश्वर, नरेन्द्र मोदी, पेड़ पौधे आदि के परिधान में बच्चों ने सभी का मन मोह लिया।
इस प्रतियोगिता के निर्णायक मंडल में रेखा गाड़िया, अनीता अग्रवाल, रिम्मी यादव रहे।
Gorakhpur-Mahotsav-1वही एक सुर समूह गान में लोकगीत और देश भक्ति सामूहिक गान के लिए दो विंग बनाये गए थे। दोनों विंग्स में सीनियर और जूनियर वर्ग के 12 -12 स्कुलो के छात्र है।
जबकि महोत्सव में महिलाओं के लिए बिना आग का खाना प्रतियोगिता का आयोजन अभिव्यक्ति सोच आज़ादी की नामक संस्था ने किया था। जिसमे 18 वर्ष से अधिक उम्र की 52 महिलाओं द्वारा भाग लिया गया था। महिलाओं ने बिना आग के खाना प्रतियोगिता में रन बॉल, पीनट चाट, ब्रेड दही बड़ा, बंगाल पनीर सन्देश, बिस्कुट के दही बड़े और सैंडविच बनाये।
Gorakhpur-Mahotsav-3

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *