गोरखपुर

न्याय की आस में दर-दर भटक रही है बहन

Sister-of-the-murdered-brotगोरखपुर: कोतवाली थानाक्षेत्र में सात माह पूर्व हुए अपने भाई की हत्या में अभी तक न्याय ना मिलने से त्रस्त होकर एक बहन अब न्याय के लिए अफसरों का दरवाजा खटखटाने को मज़बूर हो गयी है। बावजूद इसके पुलिस अभी तक उसकी गुहार सुनने को तैयार नहीं है।
मामला कोतवाली थानाक्षेत्र के दक्षिणी हुमायूँपुर का है। यहाँ के निवासी मो यासीन के 14 वर्षीय पुत्र आज़म की हत्या कर 26 जून 2015 को शव एक हॉस्पिटल के समीप पुलिया के निचे फेंक दिया गया था। मृतक के शारीर पर गहरे निशान थे।
मृतक के भाई सद्दाम द्वारा इस प्रकरण में कोतवाली में प्राथमिकी भी दर्ज कराई गयी थी। मुकदमा धारा 302 के तहत स्थानीय सागर देववंशी आदर्श रॉय राहुल शर्मा व अन्य के खिलाफ दर्ज हुआ था।
किन्तु पुलिस अब तक कार्रवाई के नाम पर सिर्फ टालमटोल कर रही है। पुलिस की इस लेट लतीफी वाले रवैये से त्रस्त होकर पीड़ित परिवार ने एस एस पी के यहाँ दो बार 14 सितंबर और 1 अक्टूबर को प्रार्थना पत्र भी दिया। पीड़ित परिवार की पुत्री एवम मृतक की बड़ी बहन ने अब खुद अधिकारियो के चौखट पर माथा टेक कर न्याय की भीख मांगना शुरू कर दिया है।
पीड़िता बहन शाजिया पुत्री यासीन ने आरोप लगाया कि आरोपी सागर व उसके साथी बराबर उसके परिवार को जान मॉल की धमकी देकर मुक़दमा उठाने का दवाब बनाता है।

 

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *