गोरखपुर

बिना हेलमेट बाइक चलना नगर विधायक को पड़ा महंगा, मोटर एक्ट के तहत होगी कारवाई

tweeta-and-mla-on-bikeगोरखपुर: एक तरफ जहां मार्ग दुर्घटनाओं में जान गंवाने वालो की संख्या में इजाफा होते देख केंद्र की बीजेपी सरकार ने सड़क सुरक्षा अधिनियम के तहत कड़े कानून लागू किये है तथा इसके उल्लंघन पर भारी जुर्माने का प्रावधान भी है। ऐसे में उसी पार्टी का एक जनप्रतिनिधि इन नियमों का एक समूह का नेतृत्व करते हुए उल्लंघन करता है तो यह प्रश्न स्वतः विचारणीय है। फ़िलहाल इसी तरह के नियम विरुद्ध कार्य के लिए जनपद के नगर विधायक को दोषी माना गया है।
बता दें कि नगर विधायक डॉ राधा मोहन दास अग्रवाल द्वारा बीते 22 जुलाई को महानगर में दो बड़ी परियोजनाओं का शिलान्यास करने आये प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन पूर्व जनसहभागिता हेतु शहर के कई इलाकों में मोटरसाइकिल जुलुस निकाला गया था। जिसमे वे अपने समर्थको संग एम वी एक्ट का खुलेआम उल्लंघन करते दिखे।
उक्त जनसहभागिता मोटरसाइकिल रैली में वे अपने समर्थको संग बिना हेलमेट मोटरसाइकिल चलाते दिखे। जिसकी तश्वीरें भी उन्होंने सोशल मीडिया पर शेयर की। उनके इस कृत्य को देखते हुए हेलमेट सम्मानअभियान के संयोजक व पेशे से पत्रकार वेद प्रकाश पाठक ने समाज में गलत संदेश जाने का अंदेशा जाहिर करते हुए उक्त जनप्रतिनिधि व जुलुस में शामिल अन्य मोटरसाइकिल चालको के खिलाफ कार्रवाई हेतु पुलिस विभाग के उच्चाधिकारियों को ट्वीट किया।
mla-bike-rallyहेलमेट सम्मान अभियान के संयोजक वेद प्रकाश पाठक ने इसे एफबी पेज पर भी शेयर किया है। उनका कहना है कि वे स्वयं नगर विधायक के शुभचिंतक हैं। अगर इस मामले में कार्रवाई नहीं हुई तो समाज में गलत संदेश जाएगा। पुलिस जुलूस में शामिल लोगों की सूची विधायक जी से ले और सभी पर एमवी एक्ट की कार्रवाई हो।
चूंकि जुलूस विधायक जी ने निकाला था लिहाजा उनकी जिम्मेदारी थी कि सभी प्रतिभागी हेलमेट पहने। बिना हेलमेट के इतना बड़ा जुलूस निकालकर उन्होंने सैकड़ों कार्यकर्ताओं की जान सांसत में डाली। पुलिस को यह मामला भी दर्ज करना चाहिये। इस अपराध का पंजीकरण पुलिस को स्वत: संग्यान लेकर करना चाहिये।
उनकी शिकायत को संज्ञान लेते हुए रेंज के डीआईजी शिवसागर सिंह ने ट्वीट का जवाब देते हुए वेद प्रकाश पाठक को इस प्रकरण पर कार्रवाई का भरोसा दिया है और कहा है कि आपकी शिकायत दर्ज की जा चुकी है। हालाँकि इसके प्रतिउत्तर में पुनः वेद प्रकाश पाठक ने डीआईजी को ट्वीट कर लिखा है कि उक्त प्रकरण में की गयी कार्रवाई से उन्हें भी अवगत कराया जाये।

Related Posts

  1. विपिन चौधरी says:

    सोशल मीडीया मे इतनी ताकत है कि किसी को भी उसकी औकात दिखा सकता है https://www.facebook.com/IneedJusticeYogiAdityanath/?fref=nf
    घर वापसी की आड़ मे हिन्दू लड़को के मुस्लिम लड़कियों से शादी करने के बाद लड़कियों का ही अपरहण (प्रूफ़ लिंक https://m.youtube.com/watch?v=FIHCYtfaULY) पोस्ट को पढ़ना विश्वास ना हो तो खुद चाहो तो गूगल बाबा की मदद से खुद भी पता कर सकते हो सच्चाई क्या है इनकी ! क्या आपको पता है मुलायम सिंह के छोटे बेटे प्रतीक यादव की पत्नी का पूरा नाम क्या है ? अर्पणा बिष्ट और योगी आदित्यनाथ के योगी का भगवा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *