गोरखपुर

आदित्यनाथ ने किया स्मृति ईरानी का समर्थन; बोले जेएनयू दुराचार और राष्ट्र विरोधी गतिविधियों का अड्डा


गोरखपुर: जेएनयू प्रकरण पर मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी का पुरजोर समर्थन करते हुए बीजेपी के फायर ब्रांड नेता और सदर सांसद महंत योगी आदित्यनाथ ने कहा है की जेएनयू जैसे उच्च शिक्षण संस्थान को वामपंथियों ने जिस तरीके से अराजकता, दुराचार और राष्ट्र विरोधी गतिविधियों का अड्डा बना के हिन्दू आस्था पर प्रहार का केंद्र बनाया है, वह निंदनीय और भर्त्सना योग्य है।
उन्होंने कहा की भारतीय समाज महिषासुर, रावण और कंस को कभी मान्यता नहीं देता है। देवी परंपरा को भारत का आमजन मानता है। और आसुरी शक्तिओं के प्रतीक को इस देश में बढ़ावा देकर के जिस आसुरी प्रवत्ति को बढ़ावा देने का काम वामपंथी कर रहे हैं, मुझे लगता है वह निंदनीय ही नहीं, राष्ट्र के खिलाफ एक खतरनाक साजिश है।

हरियाणा के मुरथल काण्ड पर उन्होंने कहा कि एसआईटी का गठन किया गया है। जांच होने दीजिये। विपक्ष के किसी भी अनर्गल आरोपों पर सहसा विशवास नहीं किया जाना चाहिए। सरकार ने कहा है कि जांच में जो तथ्य सामने आएंगे, उसके आधार पर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी।
राज्य सभा में 251 मोबाइल में फ्राड के प्रकरण को उठाने के मामले में उन्होंने कहा कि दूर संचार मंत्री ने इसमें जांच के आदेश दिए हैं। भारत का दूर संचार मंत्रालय इसकी जांच कर रहा है।

 

रेल बजट में गोरखपुर के लिए किये गए प्रावधानों के लिए योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री, रेल मंत्री का किया धन्यवाद

गोरखपुर की हर खबर यहाँ पढ़े http://gorakhpur.finalreport.in/ 

LIKE US:

fb
AD4-728X90.jpg-LAST

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *