गोरखपुर

ख़राब LED की शिकायत पर कंपनी के कर्मचारियों ने किया बेतिया हाता पार्षद पर हमला, दी गयी तहरीर

राकेश मिश्रा
गोरखपुर: महानगर के बेतिया हाता पार्षद विश्वजीत त्रिपाठी सोनू द्वारा नगर निगम बोर्ड में बार-बार ख़राब LED लाइट लगने की शिकायत करने पर कंपनी के कर्मचारियों के कोपभाजन का शिकार होना पड़ा। जानकारी के अनुसार विश्वजीत लगातार इस बात की शिकायत कर रहे थे कि सूबे में भाजपा सरकार के आने के बाद उनके क्षेत्र में लगने वाले LED लाइट की गुणवत्ता में बहुत गिरावट आई है। उन्होंने इस बात की शिकायत की थी LED लाइट की गुणवत्ता में सपा सरकार के जाने और भाजपा सरकार के आने के बाद लगातार गिरावट आई है।

श्री त्रिपाठी इस बात की नगर निगम बोर्ड में लगातार शिकायत कर रहे थे। उन्होंने बताया कि नगर निगम लगातार आश्वासन तो दे रहा था, लेकिन दोषियों के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं कर रहा था। श्री त्रिपाठी ने बताया कि उनके द्वारा लगातार शिकायत करने से नाराज होकर कंपनी के कर्मचारियों ने आज ना केवल उनके घर में घुस कर उनके साथ मारपीट की बल्कि उनकी सोने की चेन और कुछ नकदी भी लूट ले गए।

कैंट थाने में विश्वजीत त्रिपाठी द्वारा दी गयी तहरीर के अनुसार आज सुबह 11 करीब उनके घर में LED लाइट लगाने वाली कंपनी EESL के मैनेजर संदीप सिंह अपने पांच-छह साथियों के साथ उनके घर में घुस गए। उन लोगों ने पार्षद को लगातार शिकायत करने के कारण ठीक करने की धमकी दी। कंपनी के कर्मचारियों ने ना केवल पार्षद की औकात बताने की बात कही बल्कि उनके द्वारा प्रतिवाद करने पर उनका कालर पकड़ लिया। तहरीर के अनुसार संदीप सिंह के साथ आये कर्मचारियों ने उनके साथ मारपीट शुरू कर दी।

श्री त्रिपाठी ने बताया कि मारपीट के दौरान कंपनी के कर्मचारी उनकी सोने की चेन और कुछ नकदी भी लूट ले गए। श्री त्रिपाठी ने बताया कि मारपीट के दौरान शोरगुल होने पर उनके पडोसी और मोहल्ले के अन्य लोग इकट्ठे हो गए। तहरीर के अनुसार जाते-जाते कंपनी के अधिकारी संदीप सिंह और अन्य कर्मचारियों ने दोबारा शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी भी दे डाली।

श्री त्रिपाठी ने इस पूरी घटना की कैंट थाने में तहरीर देकर उनके ऊपर हमला करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की मांग की है। उनके साथ साहेब अंसारी, आकाश चौहान, संजय यादव, और पार्षद मोहम्मद अख्तर मौजूद रहे।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *