गोरखपुर

भारत बंद: दलित संगठनों ने मचाया उत्पात, एटीएम का शीशा तोड़ा, जबरिया बन्द कराई दुकानें

भारत बंद: दलित संगठनों ने मचाया उत्पात, एटीएम का शीशा तोड़ा, जबरिया बन्द कराई दुकानें

गोरखपुर: आज अनुसूचित जाति जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम एससी एसटी एक्ट मामलों में तत्काल गिरफ्तारी पर रोक लगाने वाले सुप्रीम कोर्ट के फैसले का दलित संगठनों द्वारा विरोध देखा गया।गोरखपुर में भारत बंद के समर्थकों ने राजघाट क्षेत्र के अलहदादपुर में पीएनबी के एक एटीएम पर जमकर तोड़फोड़ मचाई। उन्‍होंने एटीएम के शीशे तोड़ दिए। तोड़फोड़ के दौरान एक युवक को हल्‍की चोट भी आ गई।

बता दें कि एससी एसटी एक्ट में सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिये गए दिशा निर्देश के विरोध में सोमवार की सुबह करीब 10 बजे अनुसूचित जाति-जनजाति संघर्ष मोर्चा के बैनर तले सैकड़ो की संख्या में युवक बेतिया हाता पहुंचे। यहा से जुलूस निकाल बाजार बंद कराते हुए बैंक रोड, विजय चौराहा, गणेश चौराहा, गोलघर काली मंदिर, गोलघर चौराहा, कलेक्ट्रेट चौराहा, अम्बेडकर चौक, शास्त्री चौक तक गये। इस दौरान जितनी दुकानें खुली थीं बंद समर्थकों ने उनके शटर पर लाठी पीट-पीटकर बंद करा दिया। कुछ दुकानों का बाहर रखा सामान दुकान के अंदर फेंक दिया गया।

आज जुलूस के दौरान बन्द समर्थकों ने बेतियाहाता में स्थित पीएनबी के एटीएम पर पथराव कर शीशा तोड़ दिया। इस दौरान हाथ से एटीएम का शीशा तोड़ रहे पूर्वाचल सेना के अध्यक्ष धीरेंद्र कुमार का हाथ चोटिल हो गया।तोड़फोड़ करते समय एटीएम का शीशा हाथ में धंस गया। घटना की जानकारी होने पर एसपी सिटी विनय सिंह फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। उन्होंने धीरेंद्र को मेडिकल कॉलेज भेजवाया। बेतियाहाता से निकलने के बाद आदोलन कारी अंबेडकर चौक से कहचरी होते हुए नगर निगम पहुंचे। कोर्ट के फैसले के खिलाफ नारेबाजी करते हुए जाम लगने का प्रयास किया। पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए सभी को नगर निगम परिसर में वापस कर दिया। जोर जबदस्ती करने वाले एक दर्जन से अधिक लोगों को हिरासत में लेकर थाने भेज दिया गया।

एसपी सिटी विनय सिंह ने बताया कि कानून तोड़ने वाले लोगों पर मुकदमा दर्ज होगा

इस दौरान दोपहर करीब 12.30 बजे तक शहर में प्रदर्शन थम गया। इसके बाद भी पुलिस एहतियातन सतर्क थी,शहर के सभी प्रमुख चौराहों पर फोर्स तैनात की गई है। पुलिस लाइन में क्यूआरटी को अलर्ट रखा गया है। एसएसपी ने निर्देश दे रखा है कि कोई भी सूचना मिलने पर सीओ और थानेदार तुरंत मौके पर पहुंचे।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *