गोरखपुर

दयाशंकर के नुकसान की भरपाई कर सकतीं हैं स्वाति सिंह, पार्टी खेल सकती हैं उनपर दावं

Wife-of-ex-BJP-leader-Swatiगोरखपुर(राकेश मिश्र): भाजपा के पूर्व प्रदेश उपाध्य्क्ष दयाशंकर सिंह के द्वारा बसपा सुप्रीमो मायावती के लिए प्रयोग किये गए अपशब्दों के बाद भगवा पार्टी को हुए नुकसान की भरपाई होती नजर आ रही है। दयाशंकर पर पलटवार करते हुए बसपा नेता नसीमुद्दीन के बयान और उसके बाद दयाशंकर की पत्नी के जोरदार जबाब ने भाजपा को इस मुद्दे पर एक नयी संजीवनी दे दी है।
दयाशंकर सिंह द्वारा मायावती के खिलाफ अमर्यादित टिप्पणी के विरोध में बृहस्पतिवार को लखनऊ के हजरतगंज चौराहे पर हुए प्रदर्शन में बसपाइयों ने दयाशंकर के पूरे परिवार पर जम कर हमला बोला और ‘पत्नी-बेटी पेश करो’ जैसे नारे लगाए।
जिसके जबाब में दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वाति सिंह ने मायावती से पूछा है की वो बताये मैं अपनी बेटी कहाँ पेश करूं। स्वाति सिंह ने कहा की टीवी पर नारे सुनकर उनकी 12 वर्षीया स्कूल में पढ़ने वाली बेटी सदमे में चली गई है। उन्होंने कहा की वो टीवी पर क्लिपिंग्स देखने के बाद लगातार रो रही है।
उन्होंने कहा की वो बसपा प्रमुख मायावती के खिलाफ उनको और उनके परिवार को मानसिक प्रताड़ना देने के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराएंगी। उन्होंने पूछा की यदि उनको या उनके परिवार को कुछ हो गया तो क्या मायावती जिम्मेदारी लेंगी?
मौके की नजाकत को भांपते हुए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या के आहवान पर सभी जिला मुख्यालयो पर ‘बेटी के सम्मान में भाजपा मैदान में’ के अंतर्गत सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने धरना प्रदर्शन किया। केशव प्रसाद मोर्या के नेतृत्व में बीजेपी के सभी प्रदेश पदाधिकारी राज्यपाल राम नाईक से मुलाकात कर नसीमुद्दीन सिद्धिकी के खिलाफ ज्ञापन भी देंगे। साथ ही उनके खिलाफ कार्रवाई करने की मांग भी करेंगे। बीजेपी को लगता है अभी चुनाव दूर है इसलिए दयाशंकर सिंह के बयान की भरपाई नसीमुद्दीन सिद्दीकी के बयान से की जा सकती है।
वैसे इस मुद्दे का राजनितिक लाभ कौन लेता है ये तो वक़्त ही बताएगा लेकिन शुरुवाती लाभ के बाद इस मुद्दे पर बसपा पिछडती नजर आ रही है।
एक बात और गौर करने की है इस मुद्दे ने भाजपा को एक नया नेता भी दे दिया है और वो हैं दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वाति सिंह। दयाशकंर सिंह की पत्नी ने जिस तरह से नसीमुद्दीन सिद्दीकी के आपत्तिजनक बयान पर आक्रामक रुख इख्तियार कर उनके खिलाफ लखनऊ के हजरतगंज पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज कराई है उससे बीजेपी खुश है।
सूत्रों की मानें तो, पार्टी अगले साल होने विधानसभा चुनाव में उनकी पत्नी को टिकट देने पर विचार कर सकती है। उनकी पत्नी ठाकुर बाहुल्य बालियां सीट से बीजेपी के लिए एक सशक्त उम्मीदवार हो सकती हैं। जिस तरह उन्होंने मायावती और बसपा के खिलाफ मोर्चा खोला है उससे उनकी एक मजबूत छवि तो सामने आयी ही है महिला होने के नाते उनको सहानभूति के भी वोट मिल सकतें हैं।
गौरतलब है की दयाशंकर बालियां से बीजेपी के टिकेट पर 2007 में चुनाव लड़ चुकें हैं और उस चुनाव में वो 5वे नंबर पर थे। पार्टी ने उन्हें 2012 में टिकट तो नहीं दिया लेकिन विगत एमएलसी चुनाव में पार्टी ने द्वितीय वरीयता का उम्मीदवार घोषित किया था। पार्टी कार्यकारिणी में उन्हें प्रदेश का उपाध्य्क्ष भी बनाया गया था और पार्टी दयाशंकर के बल पर पूर्वांचल में ठाकुर वोटों को अपनी तरफ लुभाने की पुरजोर कोशिश करती दिखा रही थी।
जब कुछ ठीक चल रहा था ऐसे में दयाशंकर सिंह को बसपा की प्रमुख और राज्यसभा सांसद मायावती पर विवादास्पद बयान देना भारी पड़ा। बीजेपी ने उन्हें तत्काल प्रभाव से पार्टी के उपाध्यक्ष पद से हटा दिया। दयाशंकर सिंह ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए मंगलवार को कहा जो सपना काशीराम ने देखा था, उसे मायावती चूर-चूर कर रही हैं। मायावती दिन में जो टिकट एक करोड़ का बेचती हैं, वही टिकट अगर कोई दो करोड़ का चाहे तो उसे दे देती हैं। उनका चरित्र एक वेश्या की तरह है। बसपा अब समाप्त हो रही है। विधानसभा चुनाव में उन्हें इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा।
बसपा सुप्रीमो मायावती पर उत्तर प्रदेश भाजपा के उपाध्यक्ष दयाशंकर सिंह की अमर्यादित टिप्पणी पर चौतरफा लानत-मलानत होने से पहले ही भाजपा प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने तुरंत आगे आकर दयाशंकर के बयान के लिए माफी मांगी।
लेकिन जिस तरह से दयाशंकर के विरोध में बसपाइयों ने स्वाति सिंह और उनकी 12 वर्षीया बेटी के लिए शब्दो का प्रयोग किया उससे इस मुद्दे का वर्तमान राजनितिक लाभ भाजपा लेती नजर आ रही है और यदि पार्टी 2017 के विधान सभा चुनाव में स्वाति सिंह को टिकट देकर एक दावं खेलती है तो इसमें कोई आश्चर्य नहीं होगा।

बसपा सुप्रीमो मायावती पर अमर्यादित टिप्पणी से भाजपा की फजीहत, पार्टी ने नेता को पद से हटाया

पूर्व भाजपा नेता दयाशंकर सिंह की पत्नी ने बसपाईयों से पूछा, कहाँ पेश करूँ अपनी बेटी

बीजेपी ने नसीमुद्दीन के पुतले की पिटाई तो बीएसपी ने पूर्व भाजपा नेता दयाशंकर सिंह को बनाया गधा

हमारा फेसबुक पेज LIKE करना न भूले:
fb

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *