गोरखपुर

दीक्षांत समारोह में चुटीले अंदाज़ में दिखे राज्यपाल राम नाइक, कहा "यहाँ पुरुषो को आरक्षण की जरूरत"

ram-naikगोरखपुर: दीदउ विवि के 34 वे दीक्षांत समारोह में अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में प्रदेश के राज्यपाल व् कुलाधिपति श्री राम नाइक ने अपने चिर परिचित मज़ाकिया शैली में कहा कि लोग आजकल आरक्षण के मुद्दे पर महिलाओ को 33 फीसद छूट की मांग करते हैं किन्तु यहाँ के स्वर्ण पदक विजेताओ में महिलाओ की बढ़ती हिस्सेदारी पर कहना चाहूँगा कि यहाँ पुरुषो को आरक्षण की जरूरत है।
उन्होंने युवा छात्रो को अगले दीक्षांत तक कम से कम 50 फीसद हिस्सेदारी स्वर्ण पदको में करने की अपील किया।
कुलाधिपति ने चुटीले अंदाज़ में कहा कि यु तो मेरे राज्यपाल के प्रोटोकाल के हिसाब से मेरा उद्बोधन 1 बजकर 5 मिनट पर था किन्तु मैं राजनाथ जी के यहाँ के लगाव को समझते हुए इसे मैनज कर लूंगा। कहा कि प्रदेश के 25 विश्वविद्यालयो का कुलाधिपति हूँ। ये 17 वा कार्यक्रम है। बीते वर्ष मैंने शैक्षणिक कैलेंडर को पटरी पर लाने और अंग्रेजियत के पहनावे को त्यागने का सुझाव दिया था जिसके तारतम्य में आज छात्रो और शिक्षाण मंडल का उत्तरीय में आना सुखद है। क्योंकि गाउन में मैडल डालते समय टोपी निचे गिर जाती थी।
naik
“कहस की आप पढ़िए किन्तु किताबी कीड़ा न बनिए हमेशा अन्य विषयो पर भी मंथन करते रहिये। राजनाथ जी के संस्मरणों को हमेशा कंठस्थ रखिये क्योंकि ये ही पूजी जीवन के हर क्षेत्र में काम आएगी। आज मेरे सुझाव पर ही छात्रो को लैमिनेटेड सर्टिफिकेट दिए गए है।”
उन्होंने कहा कि बीते वर्ष दुनिया के 200 विश्वविद्यालयो में भारत के एक भी विद्यालय का नाम नही था किन्तु इस वर्ष बेंगलुरु और दिल्ली के IIT इस सूचि में सामिल हो चुके है। मैं आशा व्यक्त किया कि अगले वर्ष की विश्व स्तरीय सूचि में गोरखपुर विश्वविद्यालय का नाम देखने को मिले।
naik1
ddu-new

गोरखपुर की हर खबर यहाँ पढ़े http://gorakhpur.finalreport.in/ 

हमारा फेसबुक पेज LIKE करना न भूले:
fb
AD4-728X90.jpg-LAST
 

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *