गोरखपुर

सामाजिक अधिकारिता शिविर लगाया सीएम योगी ने बांटे दिव्यांगजनों को उपकरण

 सीएम योगी ने बांटे दिव्यांगजनों को उपकरण

गोरखपुर: आज गोविवि में आयोजित राष्ट्रीय वयोश्री उपकरण वितरण कार्यक्रम में मुख्य अतिथि सीएम योगी आदित्यनाथ ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि किसी परिवार में अगर कोई दिव्यांग पैदा होता है, तो उसके परिवार के लोग उसे जिंदगी भर का बोझ समझते थे। लेकिन इस कार्यक्रम ने ये गलत साबित किया है।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में प्रत्येक दिव्यांग को दिया जाने वाला भत्ता प्रति माह 300 से बढ़ा कर 500 कर दिया गया था। यहां जो ट्राई साइकिल है वो मैनुवल है ।अगर भारत सरकार सहयोग करे तो इस तरह की ट्राईसाइकिल सभी जिलो में वितरण हो जाय। उन्होंने कहा कि प्रत्येक संसदीय क्षेत्र में 100-100 ट्राईसाइकिल वितरित हो जाय, तो वो इससे अपना व्यवसाय खुद कर सकता है।

उन्होंने कहा कि गरीब परिवारो के लिए सामूहिक विवाह कराने के लिए प्रदेश सरकार ने कार्यवाई प्रारम्भ कर दी है। इंसेफ्लाइटिस को लेकर अप्रैल से हम एक बड़े पैमाने पर काम करने जा रहे है ।सीआरसी सेंटर के लिए केंद्र से मदद मांगी है और प्रदेश सरकार की तरफ से पूरी मदद करने की बात कही है।

सीएम ने आयोजित कार्यक्रम में लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि बुजुर्ग व्यक्ति एक समय के बाद असहाय हों जाता है, उन्हें चश्मा नही मिल पाता और उन्हें छड़ी नही मिल पाती है, लेकिन मैं धन्यवाद देता हूं, कि इस कार्यक्रम के जरिये वो सभी सहायक उपकरण यहां दिए जा रहे है ।इस कार्यक्रम के लिए मैं प्रधानमंत्री जी को और मंत्री गहलोत जी को हृदय से धन्यवाद देता हूं।

बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं केंद्रीय मंत्री सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय थावरचंद गहलोत आज रविवार को एक ही हेलीकाप्टर से गोरखपुर आए। मुख्यमंत्री एवं केंद्रीय मंत्री की देखरेख में दीन दयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय में आयोजित सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय की राष्ट्रीय वयोश्री योजना के अन्तर्गत 4115 पूर्व चिन्हित लाभार्थियों को लगभग 217 लाख रुपये के 7072 नित्य जीवन सहायक एवं दिव्यांग सहायक उपकरण वितरित किए गए। वितरण समारोह के मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं अध्यक्षता सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री भारत सरकार थावरचन्द गहलोत ने किया।

इस अवसर पर सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री भारत सरकार थावरचन्द गहलोत ने  कहा कि भारत सरकार गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वालों एवं वृद्धावस्था के कारण शारीरिक दृर्बलता से ग्रसित वरिष्ठ नागरिकों की दिनचर्या को सामान्य करने के लिए प्रयासरत है। गोरखपुर में वयोश्री योजना अन्तर्गत प्रदेश का दूसरा और देश 20वां शिविर है।

वहीं सीएम योगी ने मीडिया से बात करने के दौरान कैराना के सांसद हुकुम सिंह की निधन पर अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि हुकुम सिंह जी बीजेपी के वरिष्ठ नेता होने के साथ-साथ किसानों के भी नेता थे। यह एक अपूरणीय क्षति है पार्टी ने एक नेता अपना खोया है और किसानों ने एक अगुआ अपना खोया है पश्चिमी उत्तर प्रदेश की सामाजिक न्याय लड़ने के लिए जो भी आवाज बुलंद की थी उसे कभी भुलाया नहीं जा सकता। हम आज सुबह उनके परिवार से भी मिले हैं और अपनी शोक संवेदना व्यक्त किया है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *