गोरखपुर

फाइनेंस कम्पनी एजेंट के विरुद्ध जमाकर्ताओं ने की शिकायत

गोरखपुर: जिले के शाहपुर थानाक्षेत्र स्थित पादरी बाजार में एक फाइनेंस कम्पनी द्वारा लोगों से धोखधड़ी के विरोध में आज मुकामी पुलिस द्वारा अनदेखा करने पर सीओ गोरखनाथ से अपनी व्यथा सुनाकर जमा धन वापस करवाने की मांग किया।

जानकारी के अनुसार थाना शाहपुर क्षेत्र कर पादरी बाजार स्थित विश्वामित्र फाइनेंस कंपनी(जमार्कताओं के मुताबिक) जो 4 अप्रैल 2016 को बंद हो गयी थी। कम्पनी बन्द होने के बाद फाइनेंस कंपनी की एजेंट पिंकी पत्नी कमल नयन सिंह ने उन खाताधारकों से कंपनी बंद होने के बाद भी परिपक्वता का लालच देकर पैसा वसूलती रही। जिसमें लगभग 100 खातेदारों से किस्त का रुपया लिया गया।

पिंकी के वादे के अनुसार कंपनी में समय पूर्ण होने के बाद जब खाताधारक एजेंट पिंकी से जमा धनराशि मांगे तो,उन्होंने उन्हें डरा-धमकाकर जमा धनराशि न देकर भगा दिया। खाताधारकों के अनुसार लगभग 31लाख रुपए एजेंट पिंकी को दिए।

जमा धनराशि ना मिलने पर सभी खाताधारक थाना शाहपुर गए।लेकिन वहां पर कोई सुनवाई ना होने के कारण गोरखनाथ सीओ के पास गये।सीओ ने खाताधारकों की फरियाद सुनकर जल्द ही इस मामले में जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *