गोरखपुर

गोरखपुर में विकास की योजनाएं कांग्रेस की देन: डॉ सुरहिता करीम

Dr-Surahita-Karim-addressinगोरखपुर: उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी की प्रवक्ता डॉक्टर सुरहिता करीम ने आज दावा किया कि गोरखपुर का जो भी विकास हुआ है वह कांग्रेस की सरकारों एवं कांग्रेस के नेताओं द्वारा हुआ है।
पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा की पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय वीर बहादुर सिंह के मुख्य मंत्री रहते हुए लाल डिग्गी नेहरू पार्क, मुंशी प्रेमचंद पार्क, इंदिरा बाल विहार पार्क, नगर पालिका से गोरखपुर नगर निगम की स्थापना, बौद्ध विहार योजना के अंतर्गत रामगढ़ ताल परियोजना, प्रेक्षागृह, नक्षत्रशाला, सर्किट हाउस, ट्रांसपोर्ट नगर, फल मंडी, गल्ला मंडी, पर्यटन आवास और ट्रैफिक सुचारु रुप से चलाने के लिए चौराहों चौराहों पर रेड लाइट तथा जगह-जगह बस स्टॉप की स्थापना किया गया।
उन्होंने कहा की गोरखपुर के लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मिले, इसके लिए मेडिकल कालेज की स्थापना कराई गई। मदन मोहन मालवीय इंजीनियरिंग कालेज, युवाओं को रोजगार देने के लिए कारखाना, औद्योगिक केंद्र गीडा की स्थापना भी कांग्रेस की सरकार द्वारा ही किया गया है। गोरखपुर रेलवे स्टेशन का आधुनिकीकरण भी स्वर्गीय महावीर प्रसाद के रेलमंत्री रहते हुए हुआ।
श्रीमती करीम ने कहा कि एक दुर्घटना के कारण खाद कारखाना कई वर्षों से बंद पड़ा है जिसके कारण यहां काम करने वाले लोगों के सामने रोजी रोटी का संकट आपदा नत्था से गैस बेस्ड प्लांट में बदलने के लिए गैस की पाइप लाइन को हल्दिया से जगदीशपुर तक लाने की कोशिश किया।
उन्होंने कहा की यह गर्व की बात है कि भारत सरकार के पूर्व पेट्रोलियम राज्यमंत्री कुंवर आरपीएन सिंह के अथक प्रयासों से इस परियोजना के लिए भारत सरकार द्वारा धन अवमुक्त हुआ मनमोहन सिंह सरकार ने पुनः इस कारखाने को चलाने के लिए अपनी रुचि दिखाई एवं इसके लिए करोडो का कर्जा माफ किया।
उन्होंने कहा की हम उम्मीद करते हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसे केवल चुनावी प्रचार 2017 बनाकर नही बल्कि जमीनी स्तर पर प्राथमिकता देते हुए समयबद्ध तरीके से पूरा कराएं व गोरखपुर और आसपास की जनता को लाभ पहुंचाएं।
उन्होंने कहा की अब 2017 को ध्यान में रखते हुए एक वृहद परियोजना को छोटा रूप देकर जनता को खुश करने के उद्देश्य गन्ना शोध संस्थान की जमीन को निशुल्क कहकर सस्ती राजनीति की जा रही है। हम चाहते हैं कि खाद कारखाने का निर्माण हो ना कि राजनीति। सपा और भाजपा के लोग इस पर राजनीति न करें। गोरखपुर की आम जनता जो की महंगाई बेरोजगारी सूखा और बाढ़ आदि से जूझती हुई बड़ी उम्मीद से अपने जनप्रतिनिधियों की तरफ देख रही है उसके साथ छलावा न हो।
उन्होंने कहा की कांग्रेसियों ने एम्स के मुद्दे पर जन आंदोलन सत्याग्रह किया जिस पर जनता ने पूरा सहयोग किया। बड़ी खुशी की बात है कि गोरखपुर में एम्स बनने जा रहा है एवं खाद कारखाना गोरखपुर की जनता का हक है। देखना होगा कि विगत 25 वर्षों से उपेक्षित गोरखपुर एक बार फिर चुनावी गर्मियों के मौसम में न चला जाए।

fb

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *