गोरखपुर

'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' अभियान में बच्चों ने निकाली संवेदना यात्रा, डीएम ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना


beti-bachaoगोरखपुर:
प्रदेश के महिला कल्याण विभाग और महिला समाख्या के संयुक्त तत्वाधान में आज बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत बेटियो ने संवेदना यात्रा निकाली।कार्यक्रम को डी एम ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

आज डिस्ट्रिक्ट कलेक्ट्रेट से संवेदना यात्रा की अगुवाई करती हुई जिला की प्रोजेक्ट को ऑर्डिनेटर संगीता सिंह ने बताया कि 2011 की जनगड़ना के आंकड़ो के अनुसार तेजी से गिरता बाल लिंगानुपात ये दर्शाता है कि लडकियो के जीवित रहने की संभावना ही तेज़ी से घाट रही है।

गिरते हुए बाल लिंगानुपात की समस्या की गंभीरता को देखते हुए यूपी सरकार ने राज्य महिला सशक्तिकरण मिशन के अंतर्गत उक्त योजना की शुरुआत की। भारत सरकार द्वारा अनुमोदित 10 जिलो के स्थान पर 07 जिलो को और शामिल करते हुए कुल 17 जिलो में लागु किया जो बेहद गंभीर अवस्था में है। गोरखपुर जिले का लिंगानुपात 909 है।

जबकि यूपी का 902 है।योजना में जनपद के 3 विकास खंड पाली पिपरौली बासगाव का लिंगानुपात क्रमसः 891 895 व् 898 है जो कि सबसे कम है।जनपद का सबसे अधिक लिंगानुपात वाला विकास खण्ड पिपराइच है जहां लिंगानुपात 930 है।

वस्त्रोद्योग लगाने पर मिलेगा रू 1 करोड़ प्रति वर्ष का सरकारी लोन, क्लिक कर जाने पूरी प्रक्रिया

पुलिस कप्तान थानेदारों संग बाजारों मे करेंगे गश्त, DGP ने दिए निर्देश

गोरखपुर की हर खबर यहाँ पढ़े http://gorakhpur.finalreport.in/ 

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *