गोरखपुर

डीएम ने किया मेडिकल कालेज का औचक निरीक्षण, जाना इंसेफेलाइटिस पीड़ितों का हाल

DM-ON-Singh-visited-medicalगोरखपुर: जिलाधिकारी ओ एन सिंह ने बरसात के मौसम में जेई/एइएसस जैसी बीमारी के मद्देनजर आज बीआरडी मेडिकल कालेज का औचक निरीक्षण किया, और वहां पर भर्ती जेई/एईएस के मरीजों के परिजनों से मुलाकात कर मिल रही सुविधाओं के बारे में जानकारी ली।
इस अवसर पर उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार जेई/एईएस के प्रतिसंवेदनशील है और बेहतर से बेहतर सुविधा/इलाज कराने की व्यवस्था की जा रही है और मेडिकल कालेज में बेहतर इलाज के लिए जो भी मदद की आवश्यकता होगी उसे जिला प्रशासन सहयोग देगा, जेई/एइएस से कोई मत्यु न होने पाये इसके मिलकर प्रयास करना होगा साथ ही जेई/एईएस फैलने के जो भी कारण हैं उसको जड़़ से समाप्त करने के लिए सभी को जागरूक करना होगा।
जिलाधिकारी ने सर्व प्रथम मेडिकल कालेज के सर्जिकल वार्ड में बने इमरजेंसी वार्ड को देखा और वहां से मरीजों से बात चीत कर वहां की सुविधाओं के बारे में जानकारी प्राप्त की। इस दौरान उन्होंने वहां पर जेई/एइएस से संबंधित एक बोर्ड लगाने का निर्देश दिया । इसके बाद जिलाधिकारी ने सेन्ट्रल पैथालोजी, पिडयाट्रिक वार्ड, सघन चिकित्सा कक्ष, नवजात शिशु सघन कक्ष और एनआरसी का निरीक्षण किया।
निरीक्षण के दौरान उन्होंने पाया कि जेई/एइएस के मरीजों को सर्जिकल वार्ड के इमरजेंसी से पिडयाट्रिक वार्ड तक लाने में काफी दूरी तय करना पड़ रहा है इसपर उन्होंने इंसेफलाइटिस वार्ड के पास ही इमरजेंसी वार्ड बनाने को कहा जिससे लोगों के इलाज में आसानी हो।
जिलाधिकारी ने इसके उपरान्त प्रधानाचार्य एंव अन्य डाक्टरों के साथ बैठक करके वहां की समस्याओं के बारे में जानकारी प्राप्त की और कहा कि मरीजों के बेहतर इलाज के लिए जो भी सहयोग की आवश्यकता है उसे संज्ञान में लाये, जिसे पूरा कराने का प्रयास किया जायेगा।
इस दौरान एनआरसी के प्रभारी ने बताया कि एनआरसी में आशाओं के द्वारा कुपोषित बच्चे कम लाये जा रहा है और उनका पूरी तरह से फालोअप नही हो पा रहा है इसपर जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि कुपोषित बच्चों को एनआरसी पर लाया जाये और उनका फालोअप भी कराया जाये। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी डा मन्नान अख्तर, मुख्य चिकित्साधिकारी रवीन्द्र कुमार, प्रधानाचार्य बीआरडी मेडिकल कालेज एंव अन्य अधिकारी मौजूद रहे।
हमारा फेसबुक पेज LIKE करना न भूले:
fb

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *