गोरखपुर

ब्रांडेड सरसों तेल की नकल कर बिकने जा रहे तेल की खेप बरामद, 3 गिरफ्तार

Goraknath-police-with-arresगोरखपुर: जहां एक तरफ महंगाई के चलते आम जनता की थाली तंग होती जा रही है, वही मिलावटखोरों की वजह से महंगी वस्तुओं की कीमत अदा करने के बाद भी नकली खाद्य पदार्थ बाजारों में मिल रहे है। जिससे आमजनमानस को आर्थिक के साथ ही शारीरिक नुकसान भी हो रहा है।
बुधवार को कुछ इसी तरह का खेल गोरखपुर में देखने को मिला। जहां मुखबिर की सुचना पर गोरखनाथ पुलिस ने थानाक्षेत्र के ही जामिया नगर में दबिश देकर बिकने के लिए भेजे जा रहे 40 गत्ते नकली मस्टर्ड आयल को सीज किया।
the-captured-oilबता दें कि जनपद में पूर्व के बरसों में भी नकली सरसो का तेल सप्लाई करने का भंडाफोड़ हो चूका है। जिसे देखकर यहाँ मिलावटखोरों ने अपना काम कुछ समय तक बंद भी कर दिया था। किंतु बीते कुछ समय से शहर के गोरखनाथ इलाके के जामिया नगर मुहल्ले से एक नकली तेल बनाने की फैक्ट्री में यह काम चोरी चोरी चल रहा था।
यहाँ के कर्मचारियों द्वारा कमल ज्योति ब्रांड के तेल को लाकर उसके रैपर वगैरह उतारकर पुनः ब्रांडेड कम्पनी कोल्हू के रजिस्टर्ड डिब्बो में भरकर उस पर बैल कोल्हू का रैपर लगाकर बाजार में सप्लाई कर दिया जाता था।जिससे काम दाम में उन्हें अच्छा मुनाफा मिल जाता था।
police-with-the-captured-oiप्रतिदिन की भांति आज भी उक्त कारखाने में डिब्बाबन्द तेल को कार्टूनों में भरकर सप्लाई हेतु भेजे जाने के लिए वाहन का इंतज़ार किया जा रहा था कि मुखबिर की सुचना पर पुलिस ने कारखाने पर धावा बोलकर पूरा सामान अपने कब्जे में लेते हुए सीज कर दिया।
पुलिस को मौके से 40 गत्ते बैल कोल्हू के नाम से स्टिकर लगा कर नकली तेल व 3 कर्मचारी मिले।पुलिस ने कर्मचारियों को हिरासत में लेकर असली कर्ता-धर्ता की तलाश शुरू कर दिया है। गिरफ्तार अभियुक्तों ने बताया कि एक गत्ते में 42 लीटर तेल होता है,जिसकी कीमत 1 लाख 75 हजार रूपये होती है। कुल माल की कीमत लगभग 70 लाख बतायी जा रही है ।
इस सम्बन्ध में गोरखनाथ थाना के कार्यवाहक थाना प्रभारी सुनील कुमार मौर्य ने कहा कि आरोपियों के खिलाफ उत्तर प्रदेश अपमिश्रण अधिनियम की धारा व अन्य आवश्यक धाराओं में अभियोग पंजीकृत कर कार्यवाही की जा रही है। साथ ही फैक्ट्री के मालिक की भी तलाश की जा रही है।

LIKE US:

fb

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *