गोरखपुर

व्यापारियों ने प्रशासन से की उर्दू बाजार में जाम और पार्किंग की समस्या से निजात दिलाने की मांग

Image-for-representationगोरखपुर: शहर के मुख्य उर्दू बाजार में आवागमन, जाम तथा पार्किंग की व्यवस्था नहीं होने से व्यापारियों तथा जनता को होने वाली कठिनाईयों के सम्बन्ध में आज व्यापारी संगठन ने अपने बैठक में मुद्दा उठाया। जिस पर यह विचार किया गया कि शहर के व्यापारियों को एकत्रित होकर जिला प्रशासन व नगर निगम प्रशासन से पार्किंग की मांग करनी चाहिए ताकि इस समस्या से निजात मिल सके।
इस अवसर पर अखिल भारतीय संयुक्त व्यापार मण्डल के प्रदेश अध्यक्ष मनोज जायसवाल ने कहा की व्यापारियों के छोटे से छोटे समस्याओं का समाधान कर उन्हें ‘‘भयमुक्त व्यापार’’ के लिए संगठित करना उनका प्रमुख उद्देश्य है।
गोरखपुर मण्डल मुख्यालय पर आयोजित एक बैठक के दौरान उन्होंने कहा की व्यापारी देश की अर्थ व्यवस्था का मूल आधार है। व्यापारियों को किसी भी प्रकार की समस्या से निजात दिलाने के लिए वो सड़क से सदन तक संघर्ष करेंगे।
‘‘भयमुक्त व्यापार हो हमारा’’ का नारा बुलन्द करते हुए व्यापारी नेता ने प्रशासन को आगाह किया कि गोरखपुर के व्यापारी अब भयमुक्त वातावरण में व्यापार करेंगे, जिसमें किसी भी प्रकार की बाधा बर्दाश्त नहीं किया जायेगा।
उन्होंने कहा कि आज गोरखपुर में व्यापारियों के हितों की बातें करने वाले बहुत हैं जबकि वास्तव में व्यापारियों को सिर्फ वोट बैंक के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है। बैठक में संगठन की मजबूती तथा उसके विस्तार पर चर्चा करते हुए प्रदेश अध्यक्ष मनोज जायसवाल ने कहा कि हमे गांव के निचले स्तर तक व्यापारियों को जोड़कर एक मजबूत संगठन तैयार करना है, जो व्यापारियों के हितार्थ काम करे।
मण्डल अध्यक्ष दुर्गेश कुमार जायसवाल ने कहा कि वह संगठन के उद्देश्यों की पूर्ति करने हेतु दृढ़संकल्पित हैं तथा निकट भविष्य में वह व्यापारियों को जोड़कर एक मजबूत संगठन तैयार करेंगे। उन्होंने कहा कि संयुक्त व्यापार मण्डल का मूल उद्देश्य ‘‘भयमुक्त व्यापार हो हमारा’’ की स्थापना करना है जिसे हम बखूबी पूरा करेंगे।

गोरखपुर की राजनीति से जुड़ी हर खबर यहाँ पढ़े http://gorakhpur.finalreport.in/ 

fb

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *