गोरखपुर

रेल बजट में गोरखपुर के लिए किये गए प्रावधानों के लिए योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री, रेल मंत्री का किया धन्यवाद

Gorakhpur-MP-Yogi-Aditynathगोरखपुर: गोरक्षपीठाधीश्वर एवं गोरखपुर के सांसद महन्त योगी आदित्यनाथ ने कहा है की केन्द्रीय रेल मंत्री सुरेश प्रभु द्वारा बृहस्पतिवार को संसद में प्रस्तुत किया गया रेल बजट भारतीय रेल की कायाकल्प करने के लक्ष्य के साथ एक व्यावहारिक एवं दूरदर्शी सोच का उत्तम प्रयास है।
एक प्रेस रिलीज़ के माध्यम से आदित्यनाथ ने बताया की रेल बजट देश की आम जन को समर्पित प्रधानमंत्री जी की उन भावनाओं का समर्थन करता है जो कि भारतीय रेल को राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था के प्रमुख स्तम्भ के रूप में स्थापित करने का उनका लक्ष्य है।
sahjanwa-dohrighatउन्होंने कहा भारतीय रेल के निरन्तर विकास एवं सुधार हेतु सभी प्रबन्धन, पद्धतियों, प्रणालियों एवं प्रक्रियाओं में सुधार अत्यन्त आवश्यक है। इसके सामने जो प्रमुख चुनौतियां हैं उनमेंः- 1. सुरक्षा एवं संरक्षा, 2. समयबद्धता, 3. स्वच्छता तथा 4. शुचिता एवं पारदर्शिता हैं।
उनका कहना है की आम जन मानस की दृष्टि से लीक से हटकर बेहतर बनाने का जो प्रयास रेल बजट में किया गया है वह सराहनीय है।
Rail-Museum-Gorakhpurसंसद ने कहा,”रेल बजट में पूर्वोत्तर रेलवे गोरखपुर के लिए जो प्रावधान किए गए हैं उसके लिए मैं मा प्रधानमंत्री और रेल मंत्री का हृदय से धन्यवाद करता हूं।”
उन्होंने कहा की गोरखपुर में लोको ईलेक्ट्रिक शेड का प्रस्ताव, गोरखपुर से डोमिनगढ़ तक रेलवे लाईन के तीहरीकरण का प्रस्ताव, सहजनवां से दोहरीघाट तक नई रेल लाईन बिछाना, ओडियार से भटनी रेलवे लाइन का दोहरीकरण, बहराइच-श्रावस्ती से बलरामपुर तक नई रेल लाईन, गोण्डा से बुडवल के बीच रेलवे लाईन तीहरीकरण आदि अनेक स्वागत योग्य प्रस्ताव इस क्षेत्र के लिए शामिल किए गए हैं।
railllसंसद में रेल बजट में चर्चा के दौरान पूर्वोत्तर रेलवे से जुड़ी हुई अन्य महत्वपूर्ण मांगो को जिनमें गोरखपुर-नई दिल्ली के बीच जन शताब्दी/दुरन्तो सुपरफास्ट ट्रेन का संचालन, गोरखपुर-कोलकाता के बीच एक नई सुपरफास्ट ट्रेन का संचालन, गोरखपुर-हरिद्वार-देहरादून के बीच संचालित राप्ती गंगा एक्स. को प्रतिदिन करना, गोरखपुर-इलाहाबाद के बीच नई इन्टर सिटी का संचालन के साथ-साथ गोरखपुर रेल कारखाना को कौशल विकास केन्द्र के रूप में विकसित करने और पूर्वी उ.प्र. के नौजवानो के लिए कौशल विकास के विशेष प्रशिक्षण की व्यवस्था करने की मांग पूरजोर ढंग से रखी जाएगी।
cantरेल बजट में गोरखपुर-गोण्डा के बीच रेलवे विद्युतीकरण के कार्य को समयबद्ध ढंग से पूरा करने, गोरखपुर के सूरजकुण्ड और सहजनवां के समपार फाटकों पर बनने वाले उपरिगामी सेतु को प्राथमिकता के आधार पर पूरा करने का प्रस्ताव स्वागत योग्य है। मानवरहित समपार फाटकों को मानव सहित करने अथवा उनके ऊपर उपरिगामी सेतु का निर्माण भी स्वागत योग्य है। यह रेल बजट आम जन के लिए समर्पित एक व्यावहारिक और दूरदर्शी सोच का बजट है।

सहजनवां-दोहरीघाट रेल लाइन को प्रभु की मंजूरी; सांसद कमलेश पासवान ने कहा साकार हुआ जनता का सपना

NER ने खुले दिल से किया प्रभु के बजट का स्वागत; क्लिक करें और जानें Gorakhpur से सम्बंधित रेल बजट की मुख्य बातें

प्रमुख बिंदु: सुरेश प्रभु ने पेश किया रेल बजट 2016-2017

रेल बजट: गोरखपुर कैंट बनेगा सेटलाइट स्टेशन; आउटर पर अब नहीं रूकेगी ट्रेनें

वामपंथियों, लालू, नीतीश को नहीं भाया ‘प्रभु’ का बजट; भाजपा ने कहा लोक हितैषी बजट

गोरखपुर की हर खबर यहाँ पढ़े http://gorakhpur.finalreport.in/ 

LIKE US:

fb
AD4-728X90.jpg-LAST

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *