गोरखपुर

रेल बजट: गोरखपुर कैंट बनेगा सेटलाइट स्टेशन; आउटर पर अब नहीं रुकेंगी ट्रेनें

NER-GM-Rajeev-Mishraगोरखपुर: पूर्वोत्तर रेलवे महाप्रबंधक राजीव मिश्र ने पत्रकारों के रूबरू रेल बजट 2016-17 को दूरदर्शी बताया। इस वर्ष पूर्वोत्तर रेलवे को 1333 करोड़ रूपए विभिन्न योजनाओं व यात्री सुविधाओं के मद में मिले है। इस बजट में पिछले बजट की तुलना में करीब 16 प्रतिशत की वृद्धि की गयी है। पिछली योजनाओं के क्रियान्वयन पर जोर दिया गया है। यात्री किराये एवं मालभाड़े में बढ़ोत्तरी न करके यात्रियों को राहत दी गयी है।
मिश्र ने बताया कि पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी सिटी स्टेशन के विकास के लिए 10 करोड़ रूपए, गोरखपुर कैंट को सेट लाइट स्टेशन हेतु 16 करोड़ रूपए, गोरखपुर में इलेक्ट्रिक शेड के लिए 65 करोड़ रूपए, डेमू शड औडि़हार के लिए 38 करोड़, बलिया में वाशिंग पिट के लिए 10 करोड़ रूपए मिले है।
prabhuउन्होंने आगे बताया कि पूर्वोत्तर रेलवे को स्वीकृत सर्वेक्षण (नई लाइन निर्माण) एटा-कासगंज लं. 29 किमी., कपिलवस्तु-बस्ती वाया बाॅसी लं. 91 किमी, आनन्द नगर-घुघली वाया महराजगंज लं. 50 किमी, बस्ती-फैजाबाद लं. 67 किमी, हरदोई-बिलग्राम-कन्नौज लं. 45 किमी, मलिहाबाद-इटौजा लं. 170 किमी, बढ़नी-काठमाण्डु लं. 359 किमी तक के लिए धन स्वीकृत हुआ है। वहीं नये लाइन योजना सजहजनां-दोहरीघाट, काशीपुर-धामपुर, बहराईच-श्रावस्ती-बलरामपुर (तुलसीपुर) के लिए भी धन मंजूुर हुआ है।
इसके अलावा इंदारा-दोहरीघाट, बहराईच-मैलानी के लिए भी धन स्वीकार किया गया है। श्री मिश्र ने बताया कि दोहरीकरण खण्ड के अंतर्गत फेफना-इंदारा, मऊ-शाहगंज, भटनी-औडि़हार-जौनपुर के लिए धन स्वीकृत रखते है। वहीं तीसरी लाइन डोमिनगढ़-गोरखपुर, गोरखुपर कैंट-कुसम्ही, बुढ़वल-गोण्डा के लिए भी बजट में धन आवंटित हुआ है।
trackमिश्र ने कहा कि अनारक्षित सुपरफास्ट सेवा लम्बी दूरी की अन्त्योदय एक्सप्रेस, सपिरवार सफर करने के लिए हमसफर एक्सपे्रस जो एसी थ्री टियर होगी जिसमें मनोरंजन व व्यंजन की व्यवस्था होगी, उत्कृष्ट एक्सपे्रस की सौगात मिल सकती है। इसके अलावा दीनदयालु सवारी डिब्बा प्रत्येक गाड़ी में जिनकी संख्या 2-4 होगी, जिसमें मोबाइल चार्जिंग व पानी की सहूलियत पूर्वाेत्तर रेलवे को मिल सकती है।
रेलवे अस्पताल की सुविधा के प्रश्न पर मिश्र ने कहा कि अस्पताल कोई बड़ी चीज नहीं है जिसके लिए रेल बजट में अलग से कोई प्राविधान किया जायें। किस्सा मुख्तसर पूर्वोत्तर रेलवे के फंड में बढ़ोत्तरी की गयी।
Gorakhpur-Jn

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *