गोरखपुर

जंगल कौड़िया: बढ़ रहा है बंदरों का आतंक, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर डॉक्टर, मरीज सब परेशान

सूरज पाठक
गोरखपुर: जनपद के जंगल कौड़िया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर डॉक्टर और मरीज बंदरों के आतंक से तंग आ चुके हैं। जानकारी के अनुसार बन्दर डॉक्टरों और मरीजों के जरुरत का सामान लेकर भाग जा रहे हैं। यही बन्दर हॉस्पिटल में लगे हुए सौर ऊर्जा और बिजली के तारों को भी तोड़ दे रहे हैं।

बन्दर घर की छतों पर सुखाने के लिए डाले गए कपड़े को भी फाड़ दे रहे हैं। हॉस्पिटल में लगे हुए एसी को भी बंदरों ने कुछ ही दिनों में तोड़कर खराब कर दिया। डॉक्टरों का कहना है कि एसी को कई बार रिपेयर करवाना पड़ा।

वहीँ इस सम्बन्ध में वन्य जीव जानकारों का मानना है कि कूड़ेदान और घरों के बाहर आसानी से खाना मिल जाने के कारण बंदरों के व्यवहार में भी बड़ा बदलाव आया है और अब उनके इंसानों पर हमला करने के भी अधिक मामले सामने आ रहे हैं।

उनका कहना है कि बंदर अब केवल जंगल में पैदा होने वाले फल नहीं खा रहे बल्कि वो उस खाने पर निर्भर रहने लगे हैं जो उन्हें कूड़े से मिलता है। इसका असर उनके शरीर पर भी पड़ रहा है, वो पहले से अधिक मोटे और जल्द जवान हो रहे हैं। उनकी प्रजनन क्षमता भी कम उम्र में ही विकसित हो रही है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *