गोरखपुर

फ़र्ज़ी कंपनी ने डकारे करोडो रुपये, आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर लोगों ने घेरा डी एम कार्यालय

People-stages-demonstartionगोरखपुर: एक फर्जी चिट फंड कंपनी के द्वारा महानगर के लगभग 500 लोगों के साथ धोखाधड़ी कर करोडो रुपया डकार लिया गया है। जिससे 500 से डेढ़ लाख तक जमा करने वाले लोग अब कंपनी व उसके कारिंदो से धन वापसी की मांग को लेकर सडको पर आ गए।
बता दें कि कोतवाली थानाक्षेत्र के दिलेजकपुर मोहल्ले में स्थानीय निवासी गोबिंद श्रीवास्तव व अन्य कई ने छह माह पुर्व एक फर्जी संस्था मार्ग दर्शन समाजसेवी संस्था खोला, जिसे बाद में बदल कर आर्गनाइजेशन फॉर रुलर एंड अर्बन डेवलपमेंट कर दिया गया।
आस पास के रोजी रोटी के लिए दैनिक श्रम करने वाले अशिक्षित महिलाओ व मज़दूर तबके के लोगो को गुमराह कर उनसे पैसा जमा करा लिया। वह भी इस वायदे के साथ की जितना धन जमा होगा उतनी धनराशि प्रति चार माह पर सम्बंधित को लौटाई जायेगी।
कंपनी ने ये भी कहा था कि एक बार 500 रुपया दीजिये उसके बाद प्रतेक माह 500–500 रूपये देंगे। बबाद में कंपनी ने दो तीन महीने तक पैसा दिया उसके बाद जब संख्या ज्यादा हो गया तो वो सबके पैसे लेकर फरार हो गया।
ये गोरखधंधा अभी कुछ दिन और चलता कि इसी बीच किसी जमाकर्ता ने आवशयकतानुसार पैसा मांग लिया। जमाकर्ताओं द्वारा अब पैसा मांगने के बढ़ते दवाब को देखते हुए अचानक कथित कम्पनी के कर्ता धर्ताओं ने 7 जनवरी को लोगो का करोडो रुपया लेकर फरार हो गए।
जानकारी पर जब लोगो ने पैसे न मिलने पर पुलिस से शिकायत की गई तो पुलिस ने शिकायत के बाद भी किसी को गिरफ्तार नहीं किया। आज उक्त प्रकरण में पुलिस कार्रवाई से क्षुब्ध लोगो ने अखिल भारत हिन्दू महासभा के पूर्वांचल प्रभारी नवनीत श्रीवास्तव के नेतृत्व में डी एम कार्यालय पर प्रदर्शन किया।
नवनीत ने कहा कि तक़रीबन सैकड़ो की सख्या में इस कंपनी के द्वारा लोग शिकार हो चुके है, इसलिए आज हम जिला अधिकारी को ज्ञापन देने आये है, की जल्द से जल्द एसे फर्जी कंपनी के लोगो को गिरफ्तार करे ताकि जितने भी गरीबो के पैसे इन लोगो ने गमन किये है वो मिल जाये |

 

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *