गोरखपुर

वासंतिक नवरात्र के पहले दिन श्रद्धालुओ ने कलश की स्थापना, मंदिरो में लगाये जयकारे

वासंतिक नवरात्र के पहले दिन श्रद्धालुओ ने कलश की स्थापना, मंदिरो में लगाये जयकारे

गोरखपुर: वासंतिक नवरात्र परंपरागत रूप से आस्था व श्रद्धा के साथ आज से शरू हुआ। प्रथम दिन श्रद्धालुओं ने कलश स्थापना के बाद नवरात्र व्रत का संकल्प लिया और दुर्गा सप्तशती का पाठ किया मां भगवती के चरणों में अपनी आस्था व श्रद्धा निवेदित किया। आज सुबह से गोरखपुर के विभिन्न मंदिरों में श्रद्धालुओं ने देवी मंदिरों में जाकर माँ के चरणों मे मंगल कामनाएं की।

गोरखपुर के प्रमुख मंदिर काली मंदिर, तरकुलहा मंदिर और कुसम्ही जंगल में बुढ़िया माँ के दरबार में भक्तों की भीड़ लगी हुई थी और पूरा मंदिर परिसर जयकारों से गूंज उठा। आज सुबह तीन बजे से सात बजे के बीच माँ की आरती हुई। आरती के पूर्व मां को स्नान करा कर उनका श्रृंगार किया गया और नए वस्त्र पहनाए गए। काली मंदिर गोलघर में सुबह 6:00 बजे से आरती शुरू हो गई। इसके पूर्व मां को स्नान कराकर श्रृंगार किया गया।

काली मंदिर के पुजारी ने बताया कि वासंतिक अथवा चैत्र नवरात्र 18 मार्च से प्रारंभ होकर 25 मार्च तक चलेगा। यह नवरात्र 8 दिनों का होगा। अष्टमी तथा नवमी तिथि एक ही दिन 25 मार्च को पड़ेगी। नौ दिन व्रत रहने वाले श्रद्धालु 26 मार्च को पारण करेगे।

 

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *