गोरखपुर

रेलवे स्टेशन पर पोर्न साइट्स देखने वालो की धूम

Image-for-representation-1गोरखपुर: कहते है कि फ्री सुविधाएँ भी कभी कभी सिरदर्द साबित होती है। कुछ इसी तरह का मामला बीते दिवस एक समाचार पत्र द्वारा रिअलिटी चेकप के नाम पर खुलासा किया गया है । गोरखपुर जंक्शन पर यात्रियों की सुविधा के लिए शुरू हुए वाई- फाई सेवा का दुरुपयोग शुरू हो गया है। मुफ्त में शानदार स्पीड वाले इंटरनेट का आनंद लेने वालों ने रेलवे स्टेशन पर पोर्न वीडियो देखनी शुरू कर दी है।
हाईस्पीड की वाई फाई फ्री सेवा में पोर्न साइट्स पर कोई पांबदी नहीं है। इसलिए जंक्शन पर युवाओं का जमावड़ा लगने लगा है। जंक्शन पर वाई- फाई से इंटरनेट पर पोर्न साइट्स धड़ल्ले से खुल रहे हैं। अफसरों ने कहा कि यह गंभीर मामला है। जांच कराकर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।
दुनिया के सबसे लंबे प्लेटफार्म के लिए गोरखपुर रेलवे स्टेशन व‌र्ल्ड फेमस होने के बाद रेलवे स्टेशन पर आधुनिक सुविधाओं की मांग काफी दिनों से चल रही थी। सोमवार को रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने गोरखपुर वासियों को इसका तोहफा दिया। प्रथम विश्व वाई फाई दिवस पर वाईफाई फ्री सुविधा की शुरूआत की गई। सेवा शुरू होने का इंतजार कर रहे लोगों ने इसका स्वागत किया।
मुफ्त वाई फाई सेवा का लाभ लोगों ने पहले दिन से उठाना शुरू कर दिया। ट्रेन का इंतजार करने वाले पैंसेजर्स को टाइम पास का बहाना मिल गया। पैंसेजर्स को स्टेशन पर छोड़ने जाने वाले भी जमकर वाई फाई यूज कर रहे हैं।
हाई स्पीड वाई फाई सेवा के लिए रेल मंत्रालय की रेल टेल सेवा ने गूगल के साथ टाइप किया है। इससे रेल यात्री आसानी से इंटरनेट यूज कर सकते हैं। रेलवे स्टेशन पर पैसेजर्स को सुविधा देने के लिए 66 एक्सेस प्वाइंट्स और 35 एक्सेस स्वीचेज लगे हैं। तेज वाई- फाई होने से एचडी क्वालिटी के वीडियो बिना रूकावट लोग देख रहे हैं।
कम समय में आडियो- वीडियो डाउनलोड होने से लोगों का अट्रैक्शन भी बढ़ा है। रेलवे अधिकारियों ने बताया कि स्मार्ट फोन में वाई- फाई ऑन करने पर रेल वायर का सिग्नल मिलता है। इस पर क्लिक करने पर मोबाइल नंबर देना होता है। मोबाइल नंबर देने पर वन टाइम पासवर्ड का मैसेज मिलता है। पासवर्ड फीड करते ही वाईफाई सेवा शुरू हो जाती है।
स्टेशन पर कदम रखते ही ज्यादातर स्मार्ट फोन यूजर्स वाईफाई से कनेक्ट हो जा रहे हैं। सर्कुलेटिंग एरिया में भी कई जगहों पर वाईफाई सिग्नल मिलने से कनेक्टीविटी मिल रही। इंडियन रेलवे की रेल टेल सेवा में वेबसाइट्स अच्छे ढंग से ओपेन हो रही हैं। लेकिन अनथाराईज्ड वेबसाइट्स पर बैन न होने से इसका दुरुपयोग भी शुरू हो गया है।
प्रतिबंध के अभाव में ज्यादातर ऐसे साइट्स खुल रहे हैं जिनको आमतौर पर कई मोबाइल कंपनियों ने प्रतिबंधित कर रखा है। जंक्शन पर मिल रहे वाई- फाई में पोर्न साइट्स पर कोई बैन नहीं है। पोर्न साइट्स के बैन न होने से सर्विस का दुरुपयोग शुरू हो गया है। बेस्ट क्वालिटी का वीडियो डाउनलोड करने, वीडियो स्ट्रीमिंग करने के लिए शहरी नौजवान जंक्शन का रुख कर रहे हैं। ट्रेन पकड़ने वाले स्टूडेंट्स भी जंक्शन पर ज्यादा समय बिताने लगे हैं।
हमारा फेसबुक पेज LIKE करना न भूले:
fb

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *