गोरखपुर

राम लाल वर्मा बने गोरखपुर के नए एसएसपी

SSP-gorakhpur-Ramlal-Vermaगोरखपुर: प्रदेश सरकार ने राम लाल वर्मा को गोरखपुर का नया एसएसपी बनाया है। इससे पहले राम लाल वर्मा कानपुर के क्षेत्रीय अभिसूचना में एसपी पद पर तैनात थे। बुधवार को मुख्य मंत्री अखिलेश यादव ने एक सपा नेता की पिटाई का मामले में एसएसपी अनन्त देव को ससपेंड कर दिया था।
अनंत को डीजीपी मुख्यालय से सम्बद्ध किया गया है।
मुख्य मंत्री ने सपा प्रमुख मुलायम सिंह के करीबी हत्‍या के आरोप में सज़ायाफ्ता सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष गोपाल यादव के अधिवक्ता पुत्र सपा की जिला कार्यकारिणी में पदाधिकारी गौरव यादव की कैंट थाने में की गई कथित पिटाई के आरोप में एसएसपी अनंत देव को सस्पेंड कर दिया था।
इस मामले में 3 एसआई और एक सिपाही को एसएसपी अनंत देव ने ससपेंड कर जांच के आदेश दे दिए थे। मंगलवार रात हंगामे के बाद इस मामले में मोहद्दीपुर चौकी इंचार्ज नरेंद्र प्रताप राय, बेतियाहाता चौकी इंचार्ज दिनेश तिवारी, जटेपुर चौकी इंचार्ज मृत्युंजय सिंह और सिपाही योगेश सिंह को निलंबित किया गया था।
एसएसपी अनन्त देव ने सभी आरोपी पुलिसकर्मियों के विरूद्ध मारपीट किए जाने के मामले में जांच कर मुकदमा भी दर्ज किए जाने का आदेश दिया था।
बुधवार दोपहर बाद मामला मुख्यमंत्री तक जा पहुंचा तो उन्होंने गोरखपुर के वरिष्ठ अधीक्षक अनंत देव को भी सस्पेंड कर दिया। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा की गई। इस कार्रवाई से जहां पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया तो वही सपाइयों में खुशी की लहर फ़ैल गयी।
पुलिस की पिटाई का शिकार और हत्‍या के प्रयास का आरोपी गौरव यादव पेशे से वकील भी है। पिटाई की सूचना मिलते ही सपा नेताओं और वकीलों ने मंगलवार की रात कैंट थाने में हंगामा खड़ा कर दिया। वे कथित रूप से पिटाई करने वाले 3 चौकी इंचार्ज और एक सिपाही की निलंबन की मांग करने लगे। आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई होने के बाद हंगामा शांत हो गया।
हमारा फेसबुक पेज LIKE करना न भूले:
fb
AD4-728X90.jpg-LAST

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *