जरूर पढ़े

वेल्डर के बेटे को Microsoft ने ऑफर किया 1.2 करोड़ की जॉब

welderकोटा: एक वेल्डर के बेटे को माइक्रोसाफ्ट रेडमंड कंपनी ने 1.20 करोड़ रुपए का ऑफर दिया। ग्रिल और शटर बनाने का काम करने वाले वेल्डर चंद्रकांत सिंह का बेटा वात्सल्य अब दुनिया की सबसे बड़ी आईटी कंपनी माइक्रोसाफ्ट में काम करेगा। 21 साल का वात्सल्य बिहार के छोटे से कस्बे खगडिय़ा के रहने वाला है।
वात्सल्य के घर की हालत ऐसी नहीं थी कि महंगी पढ़ाई कर सकें। 12 वीं के बाद वात्सल्य का सपना था कि आईआईटी में एडमिशन ले। इस बीच, उनके पिता कोटा आ गए जिसके बाद वात्सल्य एक कोचिंग के निदेशक से मिले। किसमत ने साथ दिया तो कोचिंग के डायरेक्टर ने फ्री क्लास अटेंड करने की इजाजत दे दी। हॉस्टल की व्यवस्था भी फ्री कर दी।
वात्सल्य ने दूसरे प्रयास में जेईई-2012 में 382वीं रैंक हासिल की। इसके बाद उन्होंने आईआईटी खडग़पुर में एडमिशन लिया। यहीं उन्हें अमेरिका की प्रमुख माइक्रोसाफ्ट रेडमंड कंपनी ने 1.20 करोड़ रुपए सालाना पैकेज का ऑफर दिया। आईआईटी में कैंपस प्लेसमेंट 1 से 20 दिसंबर के बीच हुआ था। अब जून-2016 में वो बीटेक पूरी करके अमेरिका की कंपनी से जुड़ेगा।
अपने बैचमेट के साथ वात्सल्य ने एक इनोवेशन भी किया है। उन्होंने एक मिनी स्मार्ट डिवाइस बनाई है, जिसे हाथ की रिंग में लगाकर इंटरनेट एक्सेस किया जा सकता है। रिसर्च में रुचि होने के कारण वे एडवांस्ड टेक्नोलॉजी पर आधारित इनोवेटिव प्रोजेक्ट करना चाहते हैं।
iit

कुशीनगर से उड़ान भरने का सपना जल्द ही होगा साकार, अखिलेश सरकार ने रनवे बनाने को दिए 80 करोड़ 

गाय ने बदल दी गांव की जिंदगी

माडल सिटी की तर्ज पर विकसित होंगे उत्तर प्रदेश के ये सात शहर

उत्तर प्रदेश के सरकारी विभागों में लगेंगी एलईडी लाइट

fb
AD4-728X90.jpg-LAST

 
 

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *