जरूर पढ़े

कौन है वो शक्श जिसने केंद्रीय मंत्री पासवान के यहाँ फ़ोन कर SC/ST Act पर सुनाई खरी-खोटी

राकेश मिश्रा
गोरखपुर: जहाँ समूचे देश में भिन्न-भिन्न जगहों पर SC/ST Act को लेकर विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं वहीँ इसी मुद्दे पर क्षेत्र में दो दिनों से एक ऑडियो वायरल हो रहा है। ऑडियो इस कदर वायरल हुआ कि इस समय गोरखपुर जनपद के लोग जो दूर दराज क्षेत्रों में चले गए हैं, उन तक भी इसकी पंहुच हो गयी है। ऑडियो में गाली-गलौज के कारण आपको सुनवा तो नहीं सकते लेकिन वर्तमान में केंद्र सरकार द्वारा SC/ST एक्ट से सम्बंधित लाये जाने वाले अध्यादेश के विरोध में गुस्सा कितना है इस बात को आसानी से समझा जा सकता है।

जब हमने इसकी पड़ताल करने कि कोशिश की तो पहले तो यह लगा कि यह किसी फेक आदमी ने फ़ोन कर दिया होगा। लेकिन धीरे-धीरे यह पता चल गया कि जिस व्यक्ति ने फ़ोन किया है वो फेक नहीं है, बल्कि सही में वो लल्लन दुबे है। ऑडियो में लल्लन दुबे सीधे केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के आवास पर दिल्ली फ़ोन करते हैं और मंत्री से बात कराने को कहते हैं। दूसरी तरफ वाला शक्श इसमें असमर्थता जाहिर करता है। लल्लन दुबे फिर जोर देकर कहते हैं कि रामविलास से मेरी बात करवाओ। कुछ देर बाद फ़ोन दूसरा व्यक्ति ले लेता है। उसके बाद उस व्यक्ति और लल्लन दुबे के बीच हर तरह की बात होती है। गाली गलौज भी होता है।

लगभग 12 मिनट से ज्यादा हुई बातचीत में चिल्लूपार विधानसभा के मूल निवासी लल्लन यह कहते हुए सुने जा सकते हैं कि केंद्र सरकार का यह निर्णय पूरी तरह से समाज को बांटने वाला होगा। वहीँ जब इस मुद्दे पर Gorakhpur Final Report ने लल्लन से बात की तो उनका कहना था कि वो किसी जाति के प्रति द्वेष की भावना से नहीं बल्कि समाज को बाटे जाने वाले इस निर्णय से परेशान होकर उन्होंने इस तरह का कदम उठाया।

यह पूछे जाने पर कि क्या उस फ़ोन के बाद आपके खिलाफ कोई केस दर्ज हुआ या कोई पुलिसिया कार्यवाई हुई पर लल्लन का कहना था कि सोमवार को उन्हें गोरखनाथ सर्किल के सीओ प्रवीण सिंह ने बुलवाया था। वहां जाने के बाद पुलिस ने इनका नाम पता नोट कर लिया। साथ ही पुलिस ने इनसे अपना एक फोटो भी जमा करवाने को बोला। श्री दुबे ने बताया कि उन्होंने जो भी आवश्यक कार्यवाई थी उसे पूरा कर दिया।

आमतौर पर ऐसा काम व्यक्ति तात्कालिक प्रसिद्धि पाने के लिए करता है। लल्लन से यह पूछे जाने पर कि कहीं आप का भी उद्देश्य ऐसा तो नहीं है पर उनका कहना था कि मुझे नेता बनने या प्रसिद्धि पाने का कोई शौक नहीं है। मेरा जीवन अच्छे से चल रहा है और मुझे नेता नहीं बनना।

वैसे लल्लन ने हमसे बात करते हुए कुछ ऐसे मुद्दे भी गिनवाए जिन्हे सरकार को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। उनका कहना है कि देश में समान शिक्षा समान स्वास्थ्य रोजगार गारंटी बिल पास होना चाहिए। जनसंख्या नियंत्रण पर कठोर कानून बने। आरक्षण पूर्णतया समाप्त कर किसी भी जाति धर्म के लोगों को शिक्षा स्वास्थ्य रोजगार की व्यवस्था हो।अधिकारियों कर्मचारियों को उनके कर्तव्यों में लापरवाही के प्रति कठोर कानून बने। जाति के आधार पर नागरिकों का वर्गीकरण ना हो।संसद में व्यक्तिगत आरोप प्रत्यारोप छोड़ कर भारतीय नागरिकों के समुचित विकास पर चर्चा हो। योग्य प्रतिभाओं का सम्मान हो।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *