जरूर पढ़े

खबर का असर: भटहट में जलनिकासी की हुई वैकल्पिक व्यवस्था, राहगीरों को राहत

–जनता ने गोरखपुर फाइनल रिपोर्ट को दिया धन्यवाद

गणेश पाण्डेय ‘राज’
गोरखपुर: विगत एक माह से जल निकासी के लिए बनी नालियों के चोक होने के कारण सड़कों पर बह रहा गंदे पानी व बदबु से भटहट कस्बे के राहगीरों व दुकानदारों को आखिरकार कुछ समय के लिए राहत मिल गयी। उक्त समस्या को Gorakhpur Final Report द्वारा विस्तृत रूप से उठाने के बाद जिम्मेदारों की नींद टूटी और आननफानन में जेसीबी लगा कर जहाँ एक तरफ नालों की सफाई की गई वहीँ बैरियर चौराहे पर सड़क के किनारे एक बड़ा गड्ढा खोद कर वैकल्पिक व्यवस्था कर दी गयी।

इतनी परेशानी झेलने के बाद जब स्थानीय लोगों को राहत मिली तो उन्होंने Gorakhpur Final Report को दिल से धन्यवाद दिया। बतातें चलें कि विगत एक माह से नालों का बदबूदार पानी बैरियर चौराहे से लेकर सुरेन्द्र यादव के आराकल मशीन तक सड़कों पर बह रहा था। जिसकी वजह से राहगीरों व दुकानदारों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा था।

उक्त जनसमस्या को Gorakhpur Final Report ने विगत 19 अगस्त को अपने वेबपोर्टल पर “भटहट कस्बे की नालियां हुईं चोक, दुर्गंध व कीचड़ से राह चलना हुआ दुश्वार” नामक शीर्षक से प्रमुखता से उजागर किया था। खबर चलने के उपरांत जिम्मेदारों की नींद टूटी और फोरलेन बना रही छात्र शक्ति कंस्ट्रक्शन ने जेसीबी लगवाकर नालियों को साफ करने के साथ ही बैरियर तिराहे पर एक बड़ा गढ्ढा भी खोदवा दिया है जो वैकल्पिक है। फिलहाल इस वैकल्पिक व्यवस्था से कुछ दिन के लिए ही सही राहगीरों व दुकानदार को कीचड़ व दुर्गंध से राहत मिलेगी।

वहीं सुरेन्द्र यादव, राजा यादव, अनिल वर्मा सहित दर्जनों लोगों ने प्रमुखता से जनसमस्या को अपने वेबपोर्टल पर स्थान देने के लिए Gorakhpur Final Report को धन्यवाद दिया है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *