जरूर पढ़े

अंडर-19 विश्व कप: भारत ने चौथी बार खिताबी जीत दर्ज की, 8 विकेट से अस्ट्रेलिया को दी मात

टौरांग (न्यूज़ीलैण्ड): भारत ने सलामी बल्लेबाज मंजोत कालरा की शतकीय पारी की बदौलत यहां बे ओवल मैदान पर अंडर-19 विश्व कप के फाइनल में आस्ट्रेलिया को आठ विकेट से हराकर चौथी बार खिताब अपने नाम किया। आस्ट्रेलिया द्वारा रविवार को दिए गए 217 रनों के लक्ष्य को भारत ने मंजोत कालरा के 101 रनों की बदौलत 38.5 ओवरों में आठ विकेट रहते ही हासिल कर लिया।

कालरा के अलावा भारत के लिए शुभमन गिल ने 31 और विकेटकीपर हार्विक देसाई ने 47 रन बनाए। आस्ट्रेलिया खिताबी मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए 47.2 ओवरों में 216 रनों पर सिमट गई। आस्ट्रेलिया के लिए जोनाथन मेर्लो ने 76 और परम उप्पल ने 34 रनों का योगदान दिया. भारतीय गेंजबाज शिवा सिंह, नागरकोटी, पोरेल और रॉय को 2-2 विकेट मिले।

जोनाथन मेरलो के 76 रन के बावजूद आस्ट्रेलियाई टीम अंडर 19 विश्व कप फाइनल में भारतीय स्पिनरों शिवा सिंह और अनुकूल रॉय का सामना नहीं कर सकी और 216 रन पर आउट हो गई। एक समय आस्ट्रेलिया के चार विकेट पर 183 रन थे और वह 250 रन की ओर बढती नजर आ रही थी। इसके बाद भारतीय स्पिनरों ने ताबड़तोड़ विकेट लेकर उसके मंसूबों पर पानी फेर दिया। जासन संघा की टीम ने आखिरी छह विकेट 33 रन पर गंवा दिये।

आस्ट्रेलिया ने इससे पहले टास जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया लेकिन उसके बल्लेबाज अच्छी शुरूआत को बड़ी पारियों में नहीं बदल सके। मेरलो और परम उप्पल
(34) ने चौथे विकेटके लिये 75 रन की साझेदारी की। इसके बाद मेरलो ने नाथन मैकस्वीनी ( 23 ) के साथ 49 रन जोड़े.

शिवा ने मैकस्वीनी का रिटर्न कैच लेकर आस्ट्रेलिया पर दबाव बना दिया. उस समय स्कोर पांच विकेट पर 183 रन था। इससे पहले राय ने उप्पल को रिटर्न कैच लेकर पवेलियन भेजा. भारतीय स्पिनरों ने बीच के ओवरों में रनगति पर अंकुश लगाये रखा।

सलामी बल्लेबाज जैक एडवडर्स ( 28 ) और मैक्स ब्रायंट ( 14 ) टिक नहीं सके. तेज गेंदबाज ईशान पोरेल ने दोनों बल्लेबाजों को उछाल लेती गेंद पर कवर में लपकवाया। इस टूर्नामेंट की एक और खोज कमलेश नागरकोटी ने आस्ट्रेलियाई कप्तान संघा ( 13 ) समेत दो विकेट लिये. वहीं शिवम मावी को एक विकेट मिला।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *