जरूर पढ़े

सीएम साहब ! यह नाला नहीं, बहुचर्चित रामजानकी मार्ग की गोला क्षेत्र में है ये हालत

–जनकपुरी से अयोध्या को जोडने वाली सडक रामजानकी मार्ग पर सिर्फ हैं गढ्ढे व पानी।
–गोला से कौड़ीराम मार्ग पर कई जगहों पर है तालाब जैसी स्थिति ।
–सीएम के गड्ढ़ा मुक्त सड़क की घोषणा के बावजूद संबंधित विभागों की लापरवाही से गोला-कौड़ीराम मार्ग काफी जर्जर
–सड़क जगह-जगह गड्ढे में तब्दील होने से राहगीरों को सांसत

अखिलेश तिवारी
गोरखपुर: सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ के प्रदेश की सड़कों को गड्ढ़ा मुक्त बनाने की घोषणा की हवा उनके ही जिले में निकल रही है। सभी धार्मिक स्थलों को एक दुसरे से जोडने के लिए केंद्र व राज्य सरकार जहां तमाम घोषणाएं व शिलान्यास कर रही हैं। वहीं जनकपुर व अयोध्या को जोडने वाले रामजानकी मार्ग की स्थिति गोला क्षेत्र में बहुत ही दयनीय है।

सडकों पर बने गड्ढे तथा उसमें इकठ्ठा बरसात का पानी एक बार आने-जाने वाले लोगों को यह सोचने पर मजबूर कर देती है कि यह सड़क है या नाला। सड़क का थोड़ा सा हिस्सा जो दिख रहा है उसी से गुजरने के चक्कर में प्रतिदिन कोई न कोई राहगीर चोटिल हो रहा है। रामजानकी मार्ग पर मन्नीपुर से बेवरी चौराहे तक, बेवरी चौराहे से चंद चौराहे तक तथा चंद चौराहे से गोपालपुर तक मार्ग की स्थिति बहुत जर्जर हो गयी है।वहीं गोला से कौड़ीराम को जोड़ने वाली सड़क भी कई जगह नाले में तब्दील हो गयी है। जिससे गुजरने पर राहगीरों की जान सांसत में रहती है।

गोला तहसील मुख्यालय से वाया कौड़ीराम जिला मुख्यालय को जोड़ने वाली सड़क की हालात काफी जर्जर है। इस मार्ग की हालत सुधारने के लिए इसके चौड़ीकरण का काम शुरू किया गया। लेकिन काम शुरू होने में देर होने से सड़क जर्जर हालात में है और सड़क पर जगह-जगह गड्ढे बने हुए है। जिस कारण विभिन्न चौराहों पर सड़क पर जल जमाव ने नाले में तब्दील कर दिया है। जहां से गुजरने पर राहगीरों की जान सांसत पर बन आती है। कौड़ीराम मार्ग पर ककरही पडौली चौराहे की स्थिति इतनी खराब है कि वहां के लोग आये दिन पम्पसेट लगा कर पानी को सडक पर से हटा रहे हैं।

विभिन्न संगठन व पार्टी के कार्यकर्ता सड़कों को दुरूस्त करने की मांग की

रामजानकी मार्ग व गोला कौड़ीराम मार्ग पर राहगीरों की हो रही दुर्दशा को देखते हुए विभिन्न संगठन व पार्टी के कार्यकर्ता लगातार ज्ञापन के माध्यम से मार्गो को ठीक करने की मांग कर चुके हैं तथा जल्द ठीक न होने की दशा में प्रदर्शन करने की भी बात कह रहे हैं।

शपथ ग्रहण के बाद ही सड़कों को दुरुस्त करने का आदेश दिया था सीएम नें

यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने बीते वर्ष ही अपने शपथ ग्रहण के बाद ही प्रदेश की सड़कों को 15 जून तक गड्ढामुक्त करने की घोषणा किया था । जिसके बाद क्षेत्र में सड़कों की मरम्मत में तेजी दिखाई दिया तथा सड़कों की स्थिति सुधरने की आस जगी लेकिन सम्बन्धित विभाग की लापरवाही या किस कारण से सड़क की यह हालत है उसकी मार उसपर चलने वाले राहगीर ही झेल रहे हैं।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *