महराजगंज: मतदान का प्रतिशत देख दिग्गजों ने साध ली चुप्पी

TIME
TIME
TIME

महराजगंज: विधानसभा चुनाव के छठें चरण में शनिवार को सम्पन्न हुये चुनाव में जिले में अपेक्षित मतदान प्रतिशत न होते देख पाँचों विधानसभाओं में दिग्गजों ने चुप्पी साध लिया।

बता दें कि जिले के पांच सीटों पर हुये चुनाव में प्रातः 9 बजे तक 15 फीसदी वोट डाले जा चुके थे। 11 बजे तक यह प्रतिशत 7 प्रतिशत बढ़कर 23 फीसदी पर पहुँच गया। इसके बाद जैसे-जैसे सूरज का पारा परवान चढ़ने लगा, वैसे-वैसे ही दिग्गजों की बेचैनी बढ़ने लगी।

हालाँकि 11 बजे के पहले ही नौतनवा से कुंवर कौशल सिंह, एज़ाज़ अहमद खान, अंकुर मणि के परिजन, पनियरा विधानसभा से तलत अज़ीज़, गणेश शंकर पाण्डेय, सुमन ओझा, फरेन्दा विधानसभा से बजरंग बहादुर सिंह, महराजगंज सदर विधानसभा से जयमंगल कन्नौजिया, निर्मेष मंगल, और सिसवा विधानसभा से प्रेमसागर पटेल, शिवेन्द्र सिंह, राघवेन्द्र प्रताप सिंह ने अपना-अपना मत का प्रयोग कर लिया था। परंतु मतदान का प्रतिशत धीरे-धीरे औसत की अपेक्षा कम होते देख दिग्गजों की बेचैनी बढ़ने लगी।

सबसे ज़्यादा बेचैनी समर्थकों को होने लगी। इनके समर्थक चौराहों-चौराहों पर एक-एक वोट का हिसाब-किताब लगाते नज़र आये।और तो और आने-जाने वाले मतदाताओं से भी समर्थक वोट के लिए अपील करते देखे गये। परन्तु शाम को 5 बजने पर महज़ 61 फीसदी मतदान किये जाने की बात सुन दिग्गजों के दिल के बेचैनी बढ़ने लगी। और उन्होंने एकदम से चुप्पी साध लिया।

हालाँकि राजनीति के जानकारों का कहना है कि लोकतंत्र के इस पर्व में मात्र 61 फीसदी मतदान राष्ट्र निर्माण में अच्छा सूचक नहीं है। इस बार के चुनाव में प्रदेश में जिस तरह से मतदान के प्रति आम जनमानस को जागरूक किया गया, इसके पहले कभी नहीं किया गया था।ऐसे में हार-जीत के लिए प्रतिष्ठा दांव पर लगाने वाले जिले के दिग्गजों की चुप्पी लाज़मी है।