योगी के संसदीय क्षेत्र में आबकारी विभाग कर रहा सुप्रीम कोर्ट के आदेश की अवहेलना

कैपियरगंज (सूर्य प्रकाश त्रिपाठी): मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के संसदीय क्षेत्र में भी आबकारी विभाग सुप्रीम कोर्ट द्वारा शराब की दुकानों के मानकों की अवहेलना करने से बाज नही आ रहा है, और स्थानीय उपजिलाधिकारी पूजा मिश्रा के दुकानों के भौतिक सत्यापन में दी गयी जांच रिपोर्ट को दरकिनार करते हुए मानक के विपरीत और स्थानीय तौर पर भारी विरोध के बावजूद आधा दर्जन शराब की दुकानों का संचालन कराने की खुली छूट दे रखी है जिसको लेकर विरोध दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है।

मामला गोरखपुर-सोनोली मार्ग के पिपिगंज मुख्य चौराहे के समीप से सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर स्थानांतरित हुयी अंग्रेजी शराब की दुकान का है जिसे हाइवे से महज 300 मीटर की दुरी पर खुलने से स्थानीय लोगो में आक्रोश बढ़ता ही जा रहा है जो कभी भी सड़क पर आ सकता है।

पीपीगज चौराहे से स्थानांतरित अंग्रेजी शराब की दुकान वार्ड नं0 4 में बापू इन्टर कालेज, बापू पी जी कालेज, बापू चिल्ड्रेन एकेडमी, संस्कृत पाठशाला एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र स्थित होने से संस्थानों के संचालक एवं स्थानीय लोगो में शराब की दूकान खुलने से काफी आक्रोश है।

बीते 10 अप्रैल को कैपियरगंज की उपजिलाधिकारी पूजा मिश्रा ने आबकारी अशिकारियो के साथ उक्त दूकान का भी स्थलीय निरिक्षण किया था जिसके बाद दूकान के आसपास 3 सरकारी विद्यालय दो निजी विद्यालय होने की जानकारी मिलने पर उपजिलाधिकारी ने उक्त दूकान को वहां न खोले जाने की संस्तुति भी की थी।

लेकिन शारब माफियाओं की पहुच के चलते उनके द्वारा भेजी गयी स्थलीय रिपोर्ट को अनदेखी करके आबकारी विभाग ने दूकान खोलने में अहम भूमिका निभाई और दूकान चल रही है। उक्त दूकान से डिग्री कालेज एवं इन्टर कालेज में पढ़ने वाली छात्राओं के साथ ही छोटे छोटे छात्रों को भी खराब माहौल और शराबियों के आतंक से दिक्कते हो रही है।

इस बावत नगर पंचायत के वार्ड नं0 4 के सभाषद पति अताउल्लाह ने कहा है कि जल्द ही इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी, कैपियरगंज की उपजिलाधिकारी को दूकान हटवाने की लिखित शिकायत दी जायेगी। साथ ही आसपास के शैक्षणिक संस्थाओ के लोगो का भी विरोध शुरू हो चुका है।

Martia Jewels
Martia Jewels
Martia Jewels