महराजगंज

महराजगंज: झोला छाप डाँक्टर ने छीन ली मासूम की जिंदगी, मौके से फरार

महराजगंज: जिले में स्वास्थ्य विभाग की अनदेखी के कारण झोलाछाप डाक्टर इलाज के नाम पर मौत बांट रहे हैं। ताज़ा मामला पनियरा थाना क्षेत्र के ग्राम सभा मंसुरगंज का है। जहां झोलाछाप डाक्टर के इलाज से एक मासूम ने तड़प तड़प कर दम तोड़ दिया।

पनियरा थाना क्षेत्र के ग्राम सभा मंसुरगंज की सावित्री देवी अपने 5 साल के मासूम बच्चें को बुखार आने पर सीएचसी मंजूरगंज के पास स्थित एक झोलाछाप डाक्टर से उसका इलाज कराया। इलाज के दौरान छोलाछाप डाक्टर ने एक इंजेक्शन लगाया जिसके बाद मासूम की हालत बिगड़ने लगी।

छोलाछाप डाक्टर के क्लिनिक पर ही मासूम ने तड़प तड़प कर जब दम तोड़ दिया तो डाक्टर उसे इलाज कराने के बहाने प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पनियरा लाया। जहां चिकित्सकों ने जब मासूम को मृत घोषित कर दिया तो मौके का फायदा उठाकर छोलाछाप डाक्टर फ़रार हो गया।

मृतक की मां सावित्री देवी ने बताया की पनियरा थाना क्षेत्र के ग्राम सभा बसडीला निवासी अनिल शर्मा उसके गांव के पास एक क्लीनिक खोल कर लोगों का इलाज करता है। जिसके यहां अपने बच्चे को लेकर इलाज कराने के लिए गई थी। जहां मेरे बेटे की मौत हो गई।

मगर यहां बड़ा सवाल यह है कि आखिर कब तक इन झोलाछाप डॉक्टरों का शिकार होते रहेंगे ये मासूम और कब तक स्वास्थ्य विभाग कार्यवाही के नाम पर खानापूर्ति करता रहेगा।

इस मामले में महाराजगंज जिले के ए.सी.एम.ओ. डॉ राजेंद्र प्रसाद का कहना है समय-समय पर जांच किया जाता रहता है यह मामला संज्ञान में आया है उस झोलाछाप डॉक्टर के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। अब कार्रवाई के लिए मृतक की मां अपने मासूम बच्चें की लाश लेकर थाने पर बैठी हुई है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *