महराजगंज

महराजगंज : 47 वर्षों से पांच विधानसभाओं में किसी भी महिला उम्मीदवार को नहीं मिला प्रतिनिधित्व का मौका

महराजगंज: भारतीय राजनीति में महिलाओं को एक निश्चित हिस्सेदारी दिये जाने का राग वर्षों से राजनितिक दल अलापते रहे हैं। पर इसके लिये कभी भी कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया। प्रत्येक राजनितिक दलों की इसी सोच के कारण महिलाओं को संसद तथा विधानसभाओं में 30 फीसदी आरक्षण दिये जाने की व्यवस्था को अब तक अमली जामा नहीं पहनाया जा सका है। 47 वर्ष पूर्व इस जिले के एक विधानसभा क्षेत्र से एक महिला को विधानसभा सदस्य बनने का गौरव प्राप्त हुआ था। परन्तु यह कड़ी इसके आगे कभी नहीं बढ़ पायी।
वर्ष 1969 में जनपद के फरेन्दा विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के पूर्व विधायक गौरीराम गुप्त की पत्नि पियारी देवी को कांग्रेस ने मैदान में उतारा था। यद्यपि पियारी देवी ने इस क्षेत्र में पहला चुनाव लड़ा था, फिर भी क्षेत्र की जनता ने उन्हें जीत का सेहरा पहना दिया। वे दो वर्षों तक विधायक रहीं।
इसके बाद जनपद के किसी भी विधानसभा क्षेत्र से किसी भी महिला को विधानसभा में प्रतिनिधित्व का मौका नहीं मिला। हालाँकि गोरखपुर के एक प्रतिष्ठित चिकित्सक (जिनका पनियरा क्षेत्र में भी अपना आवास है) की पत्नि तलत अज़ीज़ राजनीति में सक्रिय भूमिका निभाती रही हैं। इनको कई बार प्रमुख राजनीति दलों से प्रत्याशी बनने का मौका मिला। लेकिन अब तक इस क्षेत्र की जनता ने उन्हें जीत का सेहरा नहीं पहनाया।
1996 में पनियरा विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस व बसपा गठबन्धन से कांग्रेस प्रत्याशी फतेह बहादुर को शिकस्त देने के लिये भाजपा ने पनियरा क्षेत्र से एक कर्मठ तथा स्वच्छ छवि के नेता परशुराम मिश्रा की पत्नि अन्नपूर्णा मिश्रा को टिकट दिया था। हालाँकि परशुराम मिश्रा इस क्षेत्र में हर दिल अज़ीज़ थे। फिर भी अन्नपूर्णा मिश्रा को कामयाबी नहीं मिल पायी।
महराजगंज सदर विधानसभा क्षेत्र से एक बार जनता दल यूनाइटेड ने मालती खरवार को भी प्रत्याशी बनाया था। मगर जीत का सेहरा मालती भी नहीं पहन पायीं। इसके बाद जिले के पाँचों विधानसभाओं में से किसी दल ने भी किसी महिला को टिकट देने में रूचि नहीं दिखायी है। शायद यही वजह है कि इस 47 वर्षों में किसी भी विधानसभा से किसी भी महिला को विधानसभा में प्रतिनिधित्व करने का मौका नहीं मिल पाया।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *