महराजगंज

दरोगा की मौत पर गम में डूबी सोनौली कोतवाली

अरविन्द श्रीवास्तव
महराजगंज: जनपद की सोनौली कोतवाली पुलिस उस समय सकते में आ गयी जब परिसर में मंगलवार को पूर्वाह्न उसी कोतवाली के उपनिरीक्षक की लाश उनके सरकारी दो मंजिले फ्लैट के सामने जमीन पर पाया गया। पूरा परिसर और पुलिसकर्मी स्तब्ध रह गये। पुलिस कयास लगा रही है कि दारोगा की मौत छत की पहली मंजिल से गिरने के कारण हुई है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

मृतक उप निरीक्षक जगदीश प्रसाद मूलतः देवरिया जनपद के लार निवासी थे। बताया जा रहा है कि सोमवार की देर रात ड्यूटी से थाने पर लौटे और सोनौली कोतवाली परिसर स्थिति अपने प्रथम मंजिला पर स्थित आवास में सोने चले गए। पूर्वाहन उनकी लाश छत से नीचे गिरी मिली।

घटना की सूचना पर एडिशनल एसपी आशुतोष शुक्ला एवं सीओ नौतनवा धर्मेंद्र कुमार यादव मौके पर पहुंच गए। जिले से फोरेंसिस टीम भी बुलाई गयी। एएसपी ने बताया कि जांच की जा रही है। सब इंस्पेक्टर के परिजनों को इसकी सूचना दे दी गई है। मृतक सबइंस्पेक्टर जगदीश प्रसाद पुत्र मुखलाल प्रसाद ने 1 जनवरी 1980 को नौकरी ज्वाइन किया था।

कार्यकाल का ब्यौरा
1 दिसंबर 1980 से 22 अगस्त 1991 तक गोडा आरक्षी
23 अगस्त 1991 से 7 जनवरी 1993 तक सिद्धार्थनगर
8 जनवरी 1993 से 11 अक्टूबर 1999 तक जीआरपी में
12 अक्टूबर 1999 से 20 दिसंबर 2013 तक फैजाबाद में आरक्षी पद पर तैनात रहे
28 दिसंबर 2013 को ही प्रमोशन कर कुशीनगर में हेड कास्टेबल बने व 20 सितंबर 2014 तक कुशीनगर में बने रहे
20 सितंबर 2014 को प्रमोट कर महराजगंज जनपद में आए थे।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *